कानपुर देहात में घर में घुसकर दलित युवती से गैंगरेप, गांव के पूर्व मुखिया पर लगा आरोप

पीड़िता ने पुलिस को दिए अपनी शिकायत पत्र में कहा कि आरोपी उसकी सोने की बाली भी खींचकर ले गए और उसे जान से मारने की धमकी दी (प्रतीकात्मक फोटो)
पीड़िता ने पुलिस को दिए अपनी शिकायत पत्र में कहा कि आरोपी उसकी सोने की बाली भी खींचकर ले गए और उसे जान से मारने की धमकी दी (प्रतीकात्मक फोटो)

पुलिस को दी शिकायत में पीड़िता ने कहा कि बीते आठ अक्टूबर की रात वो अपने घर में अकेली सो रही थी. रात के लगभग दस बजे गांव के ही रहने वाले दिनेश और उमेश घर में घुस आए और उन्होंने तमंचा दिखाकर उसके साथ बारी-बारी से रेप (Rape) किया. इसके अलावा उन्होंने उसके साथ मारपीट की और उसकी सोने की बाली खींचकर ले गए

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 11:20 PM IST
  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात (Kanpur Dehat) में बाइस वर्षीय दलित युवती के साथ गैंगरेप (Dalit Woman Gangrape) का मामला सामने आया है. घटना डेरापुर थाना क्षेत्र के एक गांव की है. घर में सो रही पीड़िता के साथ गांव के ही दो लोगों ने जबरन घर में घुसकर तमंचे के बल पर डरा-धमका कर गैंगरेप (Gangrape) किया. आरोपियों ने इस दौरान उसके साथ मारपीट की और उसकी सोने की बाली को भी खींचकर ले गए. जाते-जाते आरोपियों ने उसे इसके बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी.

दोनों आरोपियों के जाने के बाद पीड़िता ने अपने माता-पिता को अपनी आपबीती बताई. जिसके बाद पीड़िता के परिजन रविवार को उसे लेकर थाने पहुंचे और शिकायत दर्ज करवाई. पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित युवती ने कहा कि बीते आठ अक्टूबर की रात वो अपने घर में अकेली सो रही थी. रात के लगभग दस बजे गांव के ही रहने वाले दिनेश और उमेश घर में घुस आए और उन्होंने तमंचा दिखाकर उसके साथ बारी-बारी से रेप किया. इसके अलावा उन्होंने उसे जातिसूचक गालियां देते हुए मारपीट भी की. पीड़िता की मानें तो आरोपी उसकी सोने की बाली भी खींचकर ले गए.

कानपुर देहात के पुलिस अधीक्षक (एसपी) केशव कुमार चौधरी के आदेश पर पुलिस ने आरोपी दिनेश और उमेश के खिलाफ गैंगरेप, मारपीट करने समेत अन्य आपराधिक धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है. पुलिस ने बताया कि आरोपियों में से एक गांव का पूर्व मुखिया है. पुलिस फरार दोनों आरोपियों की तलाश कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज