Kanpur Encounter case: IG ने विकास दुबे का सुराग देने वाले को 50 हजार के ईनाम का किया ऐलान
Kanpur News in Hindi

Kanpur Encounter case: IG ने विकास दुबे का सुराग देने वाले को 50 हजार के ईनाम का किया ऐलान
कानपुर पुलिस लाइन में शहीदों के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देने सीएम योगी पहुंचे

Kanpur Encounter: सीएम योगी ने कानपुर के रीजेंसी हॉस्पिटल में घायल पुलिसकर्मियों से मुलाक़ात की इस दौरान उनके साथ डिप्टी सीएम केशव मौर्य भी मौजूद रहे. इसके बाद पुलिस लाइन पहुंच कर शहीदों के पार्थिव शरीर पर फूल माला अर्पित कर श्रद्धांजलि और परिजनों को आर्थिक सहायता का ऐलान किया.

  • Share this:
कानपुर. कानपुर एनकाउंटर में 8 पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद योगी सरकार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है. अखिलेश यादव, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और मायावती  समेत अनेक विपक्षी नेताओं ने सरकार को आड़े हाथ लिया है. इसके बाद सत्‍तारूढ़ BJP ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों के  हौसले टूट चुके हैं. वे बौखलाहट में हमले को अंजाम दे रहे हैं. इस मामले के मुख्य आरोपी विकास दुबे का सुराग देने वाले को IG पुलिस ने 50 हजार के ईनाम का ऐलान किया है. उन्होंने सुराग देने वाले का नाम, पता गुप्त रखे जाने का भी आश्वासन दिया है. उन्होंने सुराग देने वालों के लिए फोन नंबर 945 4400211 जारी किया है. पता बताने वाले का नाम पता गुप्त रखा जाएगा.

वहीं इस मामले में सियासी बाजार भी गर्म है. विपक्ष के आरोपों पर भाजपा भी जमकर पलटवार कर रही है. बीजेपी नेता अरुण सिंह ने कहा कि योगी सरकार अपराधियों को छोड़ेगी नहीं. उन्‍होंने आरोप लगाया कि सपा की सरकार जब थी तब अपराधी ही सत्‍ता में बैठे थे. बीजेपी नेता ने कहा कि अखिलेश यादव के कहने से कोई फर्क नहीं पड़ता है, प्रदेश की जनता सब जानती है. उन्‍होंने बताया कि यूपी बहुत शांत है, अपराधीकरण बिल्‍कुल नहीं है. कुछ अपराधी हताशा में ऐसा कर रहे हैं, उनसे योगी सरकार निपट लेगी.

इस बीच सीएम योगी कानपुर के दौरे पर पहुंचे और घायल पुलिस कर्मियों से रीजेंसी अस्पताल में मुलाक़ात की. इससे पहले डीजीपी कानपुर पहुंच चुके हैं. अस्पताल पहुंच कर घायल पुलिस कर्मियों का सीएम ने हाल-चाल जाना और डॉक्टरों से उनके इलाज के बारे में जानकारी भी ली. इस दौरान सीएम योगी के साथ डिप्टी सीएम केशव मौर्य भी मौजूद रहे. इसके बाद पुलिस लाइन पहुंच कर बदमाशों के साथ हुए एनकाउंटर में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि भी दी. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि इस अपराध के किसी भी जिम्मेदार को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा बहादुर जवानों को यूपी की 24 करोड़ जनता की रक्षा के लिए उनकी शहादत को नमन करता हूं. घटना के लिए जो भी जिम्मेदार पाया जाएगा वह सजा भुगतेगा, जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. उन्होंने शहीदों के परिवार को एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिए जाने का भी ऐलान किया.
सुनियोजित थी वारदात: UP DGPवहीं डीजीपी ने कहा कि इस घटना की शुरुआती जांच में पूर्व नियोजित षडयंत्र (well-planned conspiracy) के सबूत मिले हैं. फिलहाल फोरेंसिक टीम साक्ष्य एकत्रित कर रही है जल्दी ही इस घटना का खुलासा कर दिया जाएगा.इससे पहले कानपुर (Kanpur) में अपराधियों के हमले में 8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने बेहद सख्‍त रुख अपनाते हुए ट्वीट किया  था, 'कर्तव्‍यपथ पर अपना सर्वस्‍व न्‍योछावर करने वाले 8 पुलिसकर्मियों को भावभीनी श्रद्धांजलि. शहीद पुलिसकर्मियों ने जिस अपरिमित साहस और अद्भुत कर्तव्‍यनिष्‍ठा के साथ अपने दायित्‍वों का निर्वहन किया है, उत्‍तर प्रदेश उसे कभी नहीं भूलेगा. उनका यह बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाएगा.' वहीं, कांग्रेस पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'यूपी में गुंडाराज का एक और प्रमाण. जब पुलिस नहीं सुरक्षित तो जनता कैसे होगी. मेरी शोक-संवेदनाएं मारे गए वीर शहीदों के परिवारजनों के साथ है. मैं घायलों के जल्‍द स्‍वस्‍थ होने की कामना करता हूं.'बता दें कि यहां चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं. इसमें बिल्‍हौर के सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद (Martyr) हो गए हैं. एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गम्भीर रूप से घायल हैं. सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए यूपी पुलिस ताबड़तोड़ दबिश दे रही है. जानकारी के मुताबिक हमलावर बदमाशों ने पुलिस टीम पर AK-47 से गोलियां बरसाईं थीं. वहीं, अपराधियों को दबोचने के लिए एसटीएफी की टीमें जुट गई हैं.दहला देने वाली इस घटना पर उत्‍तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्‍थी ने कहा कि हमलावर बदमाशों की तलाश में एसटीएफ को लगाया गया है. एसटीएफ के आईजी भी मौके पर पहुंच गए हैं. अपराधियों के खिलाफ बड़ा अभियान चलाया जा रहा है. उन्‍होंने बताया कि हस्ट्रीशीटर विकास दुबे के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 (हत्‍या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज था. पुलिस इसी सिलसिले में उसे पकड़ने गई थी. बदमाशों ने मार्ग पर जीसीबी रख दी थी, जिससे मार्ग बाधित हो गया था. पुलिस टीम के वहां रुकते ही ऊंचाई से उनपर फायरिंग शुरू कर दी गई, जिसमें 8 पुलिसवाले मारे गए. डीजीपी ने 7 जवानों के घायल होने की बात भी कही है. इस मुठभेड़ के बाद यूपी का पुलिस महकमा सकते में है. एनकाउंटर में बड़ी संख्‍या में पुलिसवालों के मारे जाने के बाद सीएम योगी ने बदमाशों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. इसके बाद उनकी गिरफ्तारी को लेकर ताबड़तोड़ दबिश दी जा रही है. वहीं, DGP एचसी अवस्‍थी खुद घटनास्‍थल पर जाएंगे. एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार मौके के लिए रवाना हो चुके हैं. सीएम योगी रीजेंसी हॉस्पिटल के बाद पुलिस लाइन पहुंचे जहां शहीदों को गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया जाएगा.






पता चला है कि विकास दुबे नाम का बदमाश और उसके साथियों ने छतों से पुलिस टीम पर गोलियां बरसाईं. इस हमले के बाद बदमाशों ने पुलिस के असलहे भी लूट लिए. जानकारी के मुताबिक, विकास दुबे ने थाने में घुसकर राज्यमंत्री की हत्या की थी. एडीजी कानपुर जोन, आईजी रेंज एसएसपी कानपुर समेत भारी पुलिस फ़ोर्स मौके पहुंच गए हैं.

विकास दुबे की पकड़ने में जुटी एसटीएफ
इस घटना पर डीजीपी एचसी अवस्थी ने कहा कि हत्या के प्रयास मामले में दबिश देने गई टीम पर घात लगाकर फायरिंग की गई. एक सीओ, 1 एसओ, 1 चौकी इंचार्ज, 5 सिपाही शहीद हुए थे बाद में इलाज के दौरान गंभीर रूप से घायल एक और सिपाही ने दम तोड़ दिया. इसके अलावा 4 सिपाही घायल हैं. घायलों के उचित इलाज के निर्देश दिए गए हैं. आरोपी 7-8 के करीब हो सकते हैं. आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए पड़ोसी जिलों की पुलिस को भी लगाया गया है. आरोपी की गिरफ्तारी में एसटीएफ को भी लगाया गया है. लखनऊ से एक फॉरेंसिक की टीम भी कानपुर पहुंच चुकी है. कानपुर देहात में एनकाउंटर के बाद जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं. पूरे गांव में पुलिस का सर्च ऑपरेशन जारी है.

शहीद पुलिसकर्मी 

1-देवेंद्र कुमार मिश्र, सीओ बिल्हौर

2-महेश यादव, एसओ शिवराजपुर

3-अनूप कुमार, चौकी इंचार्ज मंधना

4-नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर

5-सुल्तान सिंह, कांस्टेबल थाना चौबेपुर

6-राहुल, कांस्टेबल बिठूर

7-जितेंद्र, कांस्टेबल बिठूर

8-बबलू, कांस्टेबल बिठूर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading