अपना शहर चुनें

States

Kanpur News: कब्रिस्तान पर भू-माफिया के कब्जे से आहत परिवार का सामूहिक आत्‍मदाह, अस्‍पताल में भर्ती

कानपुर देहात में एक परिवार  ने खुद को आग लगाकर जान देने का प्रयास किया.  (सांकेतिक तस्वीर)
कानपुर देहात में एक परिवार ने खुद को आग लगाकर जान देने का प्रयास किया. (सांकेतिक तस्वीर)

कानपुर देहात (Kanpur Dehat): एडीएम पंकज वर्मा ने कहा कि शिकायत मिलने के बाद 3 दिन पहले जमीन की पैमाइश कराई गई थी. जांच समिति बनाते हुए गंभीरता से मामले की पूरी जांच कराई जाएगी.

  • Share this:
कानपुर. यूपी के कानपुर देहात (Kanpur Dehat) में एक महिला ने पूरे परिवार सहित आग लगाकर जान देने का प्रयास किया. मौके पर आसपास के लोगों ने शोर मचा दिया और आग बुझाने के साथ ही सभी को इलाज के लिए ग्रामीणों की मदद से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. दरअसल, यह पूरा मामला कानपुर देहात जनपद के मूसानगर थाना क्षेत्र का है. आरोप है कि कब्रिस्तान की जमीन पर इलाके का भू-माफिया विजय अपने साथियों के साथ मिलकर कब्जा कर रहा है. इस मामले में पीड़ित अब्दुल हमीद ने थाने से लेकर एसपी तक से शिकायत की. सुनवाई न होने के बाद पीड़ित ने जिलाधिकारी (कानपुर देहात) दिनेश कुमार सिंह को भी शिकायत पत्र दिया, लेकिन पीड़ित के आरोप है कि मामले में किसी भी अधिकारी ने उनकी कोई मदद नहीं की.

28 जनवरी की सुबह अब्दुल हमीद ने अपने परिवार के सभी बच्चों और पत्नी के साथ आग लगा ली. घर की छत पर युवक द्वारा आग लगाने से चीख-पुकार मच गई. आसपास के लोग तत्काल मकान के पास आ गए और पानी डालकर आग को बुझाया गया. आग में झुलसकर मासूम बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. पीड़ित की पत्नी भी बुरी तरह झुलस गई हैं. आनन-फानन में सभी घायलों को इलाज के लिए पहले जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है. जहां हालत चिंताजनक होने के चलते सभी को कानपुर के हैलट अस्पताल रेफर किया जा रहा है.

पीड़िता गुलफाम ने बताया कि गलत तरीके से दस्तावेजों में अपना नाम अंकित कराने के साथ ही दबंग भू-माफिया इन लोगों को जान से मारने की धमकी भी दे रहा था और स्थानीय पुलिस भी कोई सुनवाई नहीं कर रही थी. इसके चलते उनके सामने कोई भी रास्ता नहीं था और उन्होंने अपनी जान देने का फैसला कर लिया. पीड़ित परिवार का आरोप है कि जब भी वो लोग अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंचते थे तो प्रभारी निरीक्षक मूसानगर रजनीश चौहान उन्हें बेइज्जत करने के साथ ही कोतवाली से भगा देते थे.



उधर, आत्मदाह के प्रयास की जानकारी मिलते ही प्रशासन के हाथ पांव फूल गए और मौके पर एडीएम पंकज वर्मा समेत जिले के पुलिस कप्तान केशव चौधरी पहुंचे. मामले पर एडीएम पंकज वर्मा ने कहा कि शिकायत मिलने के बाद 3 दिन पहले जमीन की पैमाइश कराई गई थी. इस पूरे मामले में जांच समिति बनाते हुए गंभीरता से मामले की पूरी जांच कराई जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज