Home /News /uttar-pradesh /

कानपुर जेल में कैदी बना रहे हैं दीये...

कानपुर जेल में कैदी बना रहे हैं दीये...

उत्तर प्रदेश के कानपुर में इस बार दीपावली पर घरो में जेल के बने दीये और मोमबत्ती से रौशनी होगी. नैनी की बुद्ध कला केंद्र के लोगो ने जिला कारागार में बंद 18 से 21 वर्ष के 45 युवा बंदियो को प्रशिक्षण दिया है. जिला कारागार कानपुर में बंदियो ने दीये और मोमबत्ती बनानी शुरू कर दी है.

उत्तर प्रदेश के कानपुर में इस बार दीपावली पर घरो में जेल के बने दीये और मोमबत्ती से रौशनी होगी. नैनी की बुद्ध कला केंद्र के लोगो ने जिला कारागार में बंद 18 से 21 वर्ष के 45 युवा बंदियो को प्रशिक्षण दिया है. जिला कारागार कानपुर में बंदियो ने दीये और मोमबत्ती बनानी शुरू कर दी है.

उत्तर प्रदेश के कानपुर में इस बार दीपावली पर घरो में जेल के बने दीये और मोमबत्ती से रौशनी होगी. नैनी की बुद्ध कला केंद्र के लोगो ने जिला कारागार में बंद 18 से 21 वर्ष के 45 युवा बंदियो को प्रशिक्षण दिया है. जिला कारागार कानपुर में बंदियो ने दीये और मोमबत्ती बनानी शुरू कर दी है.

अधिक पढ़ें ...
    उत्तर प्रदेश के कानपुर में इस बार दीपावली पर घरो में जेल के बने दीये और मोमबत्ती से रौशनी होगी. नैनी की बुद्ध कला केंद्र के लोगो ने जिला कारागार में बंद 18 से 21 वर्ष के 45 युवा बंदियो को प्रशिक्षण दिया है. जिला कारागार कानपुर में बंदियो ने दीये और मोमबत्ती बनानी शुरू कर दी है.

    जिला जेल में हुई इस शुरुआत से बाजार के आर्डर भी जेल को मिलने शुरु हो गए हैं. जिला कारागार के बंदियो को मेहनतकश बनाकर समाज की मुख्यधारा में लाने की पहल कानपुर जिला कारागर में हुई है. दीये और मोमबत्ती की बिक्री से हुई इनकम का आधा हिस्सा बंदियों में बराबर-बराबर बांट दिया जाएगा वहीं आधा बंदी कल्याणकारी कोष में जमा किया जाएगा.

    जेल सुपरिटेंडेंट विजय विक्रम सिंह ने बताया कि अभी तक 10 हजार दीये के आर्डर मिल चुके हैं. दीपावली तक 1 लाख मोमबत्तियां और दीये बनाने का लक्ष्य है. दीये और मोमबत्ती बनाने के लिए कच्चा माल कानपूर के ही थोक बाज़ारो से लिया जा रहा है.

    आपके शहर से (कानपुर)

    कानपुर
    कानपुर

    Tags: कानपुर

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर