होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /कानपुर: शालिनी यादव से फिजा बनी महिला का तीस हजारी कोर्ट में बयान- Love Jehad नहीं, मर्जी से किया निकाह

कानपुर: शालिनी यादव से फिजा बनी महिला का तीस हजारी कोर्ट में बयान- Love Jehad नहीं, मर्जी से किया निकाह

शालिनी यादव उर्फ़ फिजा ने की है फैसल से शादी

शालिनी यादव उर्फ़ फिजा ने की है फैसल से शादी

Kanpur Love Jehad: लव जिहाद के विवाद के बीच शालिनी यादव (Shalini Yadav) ने दो दिन पहले दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में अप ...अधिक पढ़ें

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर के कथित लव जिहाद (Love Jehad) प्रकरण में शालिनी यादव (Shalini Yadav) उर्फ़ फिजा फातिमा (Fiza Fatima) ने दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट (Tees Hazari Court) में 164 के तहत अपना कलमबंद बयान दर्ज करवाया है. शालिनी यादव उर्फ़ फिजा ने कोर्ट के सामने कहा है कि उन्होंने मोहम्‍मद फैसल से शादी अपनी मर्जी से की है. उन्होंने कहा है कि उनके साथ कोई जबरदस्ती नहीं की गई. उनकी शादी किसी भी तरह से लव जिहाद नहीं है. दरअसल, शालिनी के परिजनों ने यह आरोप लगाया था कि शहर में एक गैंग सक्रिय है जो हिंदू लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर उनसे शादी और धर्म परिवर्तन करवा रहा है.

दरअसल, न्यूज18 के हाथ लगी जानकारी के मुताबिक, लव जिहाद के मसले के बीच शालिनी यादव ने दो दिन पहले दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में अपना बयान 164 के तहत दर्ज करवाया. उन्होंने कोर्ट के सामने कहा है कि यह शादी उनकी मर्जी से हुई है और इसमें उनके साथ कोई जबरदस्ती नहीं की गई है. इससे पहले भी वह वीडियो जारी कर कह चुकी हैं कि यह लव जिहाद का मामला नहीं है. उधर, उनके भाई का कहना है कि शालिनी का ब्रेन वाश किया गया है और वह दबाव में बयान दे रही है. उनका आरोप है कि शालिनी घर से 10 लाख रुपए लेकर भागी थी. परिवार का यह भी कहना है कि वह घर लौट आए परिवार उसे स्वीकार करने को तैयार है. इस मामले में परिवार ने आईजी से मुलाक़ात कर न्याय की भी गुहार लगाई है.

आईजी ने गठित की एसआईटी
बता दें कि शालिनी यादव प्रकरण सामने आने के बाद हिंदूवादी संगठनों ने शहर के जूही कॉलोनी इलाके में लव जिहाद गैंग के सक्रिय होने का आरोप लगाते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांगी भी की है. उनका कहना है कि पिछले एक महीने 5 ऐसे मामले सामने आ चुके हैं. इस मामले में आईजी मोहित अग्रवाल के आदेश पर एसआईटी गठित की गई है. इसकी कमान खुद एसपी (साउथ) के हाथ में है. एसपी साउथ दीपक भूकर खुद अपनी टीम का गठन करेंगे. आरोपितों की एक दूसरे से जुड़े होने की जांच एसआईटी के द्वारा की जाएगी. साथ ही सुनियोजित तरीके से जिहाद फैलाने और बाहर से फंडिंग के आरोपो की भी जांच करेगी.

क्या है मामला?
शालिनी यादव उर्फ़ फिजा के गौर समुदाय के लड़के से शादी और फिर धर्म परिवर्तन करने के मामले में राजनीति भी शुरू हो गई है. एक वीडियो वायरल कर शालिनी यादव उर्फ़ फिजा ने अपील की थी कि उन्होंने शादी अपनी मर्जी से की है. उनकी शादी को लव जिहाद न बताया जाए. लेकिन, इस मामले में रविवार को सैकड़ों बजरंग दल कार्यकर्ता किदवई नगर थाने पहुंचे और आरोपी फैसल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की. सैकड़ों की संख्या में पहुंचे कार्यकर्ताओं को देख किदवई नगर थाना पुलिस के हाथ-पांव फूल गए और मौके पर अन्य थानों की पुलिस फोर्स को भी बुला लिया गया. इस पूरे मामले में बजरंग दल कार्यकर्ताओं का कहना है कि पुलिस जब तक फैसल के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती है तब तक उनका विरोध जारी रहेगा. उन्होंने कहा कि फैसल जैसे लड़के लगातार हिंदू लड़कियों का धर्म परिवर्तन करा रहे हैं. जिसे बजरंग दल कतई बर्दाश्त नहीं करेगा.

आपके शहर से (कानपुर)

कानपुर
कानपुर

Tags: Kanpur news, Kanpur Police

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें