कानपुर: शालिनी यादव के फिजा बनने का मामला, भाई बोला- 10 लाख रुपए लेकर फरार हुई थी बहन
Kanpur News in Hindi

कानपुर: शालिनी यादव के फिजा बनने का मामला, भाई बोला- 10 लाख रुपए लेकर फरार हुई थी बहन
शालिनी यादव ने की है फैसल से शादी

Kanpur Love Jihad Case: शालिनी यादव (Shalini Yadav) के परिवार के अलावा एक परिवार की दो लड़कियों को फंसाने की बात सामने आ रही है. मामले में आईजी रेंज ने जांच की बात कही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 25, 2020, 1:23 PM IST
  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) में कथित लव जिहाद (Love Jihad) का मामला तूल पकड़ने लगा है. शालिनी यादव (Shali Yadav) उर्फ़ फिजा के परिजन के अलावा एक और परिवार ने आईजी रेंज मोहित अग्रवाल (IG Mohit Agrawal) से बात कर मामले में कार्रवाई की मांग की है. शालिनी के परिवार के अलावा एक परिवार की दो लड़कियों को फंसाने की बात सामने आ रही है. मामले में आईजी रेंज ने जांच की बात कही है. बता दें शालिनी यादव उर्फ़ फिजा ने शनिवार को वीडियो वायरल कर कहा था कि उसने अपनी मर्जी से फैसल से शादी की है. इस मामले को लव जिहाद न कहा जाए.

न्‍यूज़18 से बातचीत में शालिनी उर्फ़ फिजा के भाई अभिषेक यादव ने बताया कि उसका ब्रेन वाश किया गया है. उसे नहीं पता है कि परिवार और समाज के खिलाफ क्यों बोल रही है. मैं यह चाहता हूं कि प्रशासन शालिनी को बुलाए और फैसल से अलग रखकर बात की जाए. न मैं और न मेरे परिवार का कोई सदस्य फैसल को जनता है. मैं बर्रा में रहता हूं और मामला जूही कॉलोनी का है. भाई ने बताया कि शालिनी घर से 10 लाख रुपए लेकर भागी थी. हमारी मांग है कि शालिनी को कोर्ट में पेश किया जाए, भाई ने शालिनी से भी अपील भी की है कि वह घर लौट आए और परिवार उसे स्वीकार करने को तैयार है. भाई ने बताया कि मामले में आईजी रेंज ने जांच का आश्वासन दिया है.

दो परिवार ने आईजे रेंज से मुलाक़ात कर लगाई न्याय की गुहार



उधर एक अन्य परिवार ने भी आईजी रेंज से मुलाक़ात कर अपनी बेटी को गैर समुदाय के लड़कों द्वारा फंसाने का आरोप लगाया है. परिवारके मुताबिक घर की दो लड़कियों को फंसाने की कोशिश की गई. एक लड़की तो बच गई लेकिन अब दूसरी लड़की को ले जाने की धमकी दी जा रही है. गौरतलब है कि जूही इलाके से एक महीने में पांच लव जिहाद के मामले सामने आने की बात कही जा रही है. सभी परिवार अब मीडिया के सामने आने की बात भी कह रहे हैं.
क्या है मामला?

शालिनी यादव उर्फ़ फिजा के गौर समुदाय के लड़के शादी और धर्म परिवर्तन के मामले में राजनीति भी शुरू हो गई है. एक वीडियो वायरल कर शालिनी यादव उर्फ़ फिजा ने अपील की थी कि उन्होंने शादी अपनी मर्जी से की है. उनकी शादी को लव जिहाद न बताया जाए. लेकिन इस मामले में रविवार को सैकड़ों बजरंग दल कार्यकर्ता किदवई नगर थाने पहुंचे और आरोपी फैसल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की. सैकड़ों की संख्या में पहुंचे कार्यकर्ताओं को देख किदवई नगर थाना पुलिस (Police) के हाथ-पांव फूल गए और मौके पर अन्य थानों की पुलिस फोर्स को भी बुला लिया गया. इस पूरे मामले में बजरंग दल कार्यकर्ताओं का कहना है कि पुलिस जब तक फैसल के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती है तब तक उनका विरोध जारी रहेगा. उन्होंने कहा कि फैसल जैसे लड़के लगातार हिंदू लड़कियों का धर्म परिवर्तन करा रहे हैं. जिसे बजरंग दल कतई बर्दाश्त नहीं करेगा.

29 जून को फरार हुई थी शालिनी

बता दें कानपुर के बर्रा थाने इलाके में रहने वाली शालिनी यादव की मुलाकात 6 साल पहले फैसल से हुई थी. फैसल की मुलाकात शालिनी से पहली बार घर के पास पार्क में हुई. दरअसल लड़की के घर के ठीक सामने ग्रीन बेल्ट बनी हुई है, जहां इलाके के तमाम लोग शाम को टहलने के लिए आते हैं. इसी पार्क में शालनी और फैसल का आमने सामना हुआ. करीब 2 साल बाद फैसल किदवई  नगर में रहने चला गया. फैसल ने बीकॉम किया है और शालिनी ने एमबीए कंप्लीट किया है. बीते 29 जून को बाजार जाने के बहाने घर से निकली शालिनी पहले लखनऊ पहुंची और वहां से सीधे गाजियाबाद  के लिए रवाना हो गई. शालिनी ने फैसल से गाजियाबाद में पहले निकाह किया और फिर कोर्ट से रजिस्टर्ड मैरिज भी की. शालिनी ने जो वीडियो वायरल किया है, उसके अनुसार उसने अपना धर्म परिवर्तन करते हुए इस्लाम को कुबूल किया और निकाह किया. 22 साल की शालिनी लगभग 6 साल से प्रेम संबंधों में थी. इस बात की पुष्टि भी उसने वायरल वीडियो में की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज