लाइव टीवी
Elec-widget

House tax टैक्स चोरी पर लगेगी लगाम, कानपुर नगर निगम ने लागू किए नए नियम !

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 19, 2019, 1:51 PM IST
House tax टैक्स चोरी पर लगेगी लगाम, कानपुर नगर निगम ने लागू किए नए नियम !
कानपुर नगर निगम ने हाउस टैक्स निर्धारण के बदले नियम (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इस नई व्यवस्था को लेकर कानपुर (Kanpur) की मेयर प्रमिला पांडेय (Mayor Pramila Pandey) का कहना है कि उन्होंने ही उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh government) से आग्रह किया था कि कानपुर में इस व्यवस्था को लागू किया जाए क्योंकि यहां गृहकर (house tax) के नाम पर वसूली शून्य के बराबर थी.

  • Share this:
कानपुर. नगर निगम ने टैक्स चोरी रोकने के लिए अब एक नया पैंतरा आजमाया है. इसके अंतर्गत अब भवन कर जमा करने वालों को अपने घर की फोटो भी अनिवार्य रूप से लगानी होगी. सिर्फ इतना ही नहीं इन तस्वीरों का सत्यापन नगर निगम द्वारा भी करवाया जाएगा उसके बाद ही हाउस टैक्स तय होगा. नगर निगम ने इसके लिए बाकायदा आदेश भी जारी कर दिया है.

टैक्स चोरों पर लगेगा अंकुश !
टैक्स चोरी रोकने के लिए कानपुर नगर निगम ने नया आदेश जारी किया है. इस आदेश में साफ तौर पर कहा गया है कि नगर निगम मे हाउस टैक्स के बिल के साथ-साथ मकान की फोटो भी अनिवार्य रूप से लगाई जाए. जिससे कि जो लोग जर्जर मकान दिखा कर लाखों रुपये की टैक्स चोरी कर नगर निगम को चूना लगाते थे उन पर लगाम लगाई जा सके. इस नियम के अंतर्गत अब चाहे शहर में आपकी कोठी हो या फिर जर्जर भवन फोटो लगने के बाद ही गृहकर जमा हो पाएगा. बता दें कि अयोध्या और मथुरा में यह नियम पहले से ही लागू है अब कानपुर नगर निगम ने भी यह नियम लागू कर दिया है.

नगर विकास विभाग ने पहले चरण में यह व्यवस्था 15 नगर निगमों में लागू करने के आदेश दिए हैं. विभाग का मानना है कि इस नई व्यवस्था में गृहकर निर्धारण और वसूली में पारदर्शिता आएगी. अब मकान मालिक द्वारा दी गई फोटो और नगर निगम द्वारा मौके पर खींची गई फोटो से गृहकर तय होगा साथ ही निगम अब गृहकर की नई रसीद भी जारी करेगा जिस पर आवास के संबंध में सारी जानकारियां दर्ज होंगी. मसलन मकान मालिक का नाम और वार्ड संख्या साथ ही रसीद के दूसरी तरफ मकान की फोटो होगी.

यह व्यवस्था पहले कानपुर सिटी में लागू की जाएगी. रिपोर्ट के मुताबिक़ कानपुर में बड़े पैमाने पर हाउस टैक्स की चोरी की जाती है इन चोरियों में नगर निगम के बाबूओं की संलिप्तता के चर्चे भी आम हैं.

इस नई व्यवस्था को लेकर News 18 संवाददाता ने शहर के लोगों की भी राय जाननी चाही तो लोगों ने इस नए नियम का स्वागत करते हुए कहा कि इससे गृहकर चोरी पर काफी हद तक कंट्रोल किया जा सकेगा. वहीं अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही इस व्यवस्था को पूरे जनपद में लागू कर दिया जाएगा, इससे नगर निगम के राजस्व में इजाफा होगा. वहीं इस नई व्यवस्था को लेकर कानपुर की मेयर प्रमिला पांडेय का कहना है कि उन्होंने ही उत्तर प्रदेश सरकार से आग्रह किया था कि कानपुर में इस व्यवस्था को लागू किया जाए क्योंकि यहां गृहकर के नाम पर वसूली शून्य के बराबर थी. उनका कहना है कि नगर निगम के कुछ कर्मचारियों की वजह से गृहकर की चोरी की जा रही थी और मनमाना टैक्स भेजा जा रहा था. उनका कहना है कि शहर में 50 प्रतिशत से अधिक मकानों का कमर्शियल उपयोग किया जा रहा है जबकि टैक्स आवासीय का दिया जा रहा है. ​इस नई व्यवस्था के लागू होने के बाद राजस्व बढ़ेगा.

ये भी पढ़ें - लापता भतीजे की तलाश में यूपी का ये होमगार्ड जगह-जगह पोस्टर लगा कर लोगों से कर रहा गुहार, पुलिस के पास नहीं है फुर्सत !

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 1:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...