Home /News /uttar-pradesh /

kanpur police commissionor order probe against officers gave clean chit to violence funding accused mukhtar baba

कानपुर हिंसा : फंडिंग के आरोपी मुख्तार बाबा पर कसा शिकंजा, क्लीन चिट देने वाले अफसरों पर भी गिरेगी गाज

Kanpur Violence: क्राउड फंडिंग मामले में गिरफ्तार मुख़्तार बाबा पर पुलिस का शिकंजा कसता दिख रहा है. (फाइल फोटो)

Kanpur Violence: क्राउड फंडिंग मामले में गिरफ्तार मुख़्तार बाबा पर पुलिस का शिकंजा कसता दिख रहा है. (फाइल फोटो)

मुख्तार बाबा पर शत्रु संपत्ति के नाम पर कई जमीनों पर कब्जे का भी आरोप है. मुख्तार बाबा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने वालों ने आरोप लगाया है कि कानपुर में आतंक का पर्याय बने d2 गैंग के सभी सदस्यों समेत सरगना से मुख्तार बाबा का सीधा संपर्क था, जिसके चलते मुख्तार बाबा जिस संपत्ति पर अपनी नजर डाल देता था वह संपत्ति उसकी हो जाती थी.

अधिक पढ़ें ...

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में बेकन गंज स्थित बाबा बिरयानी के संचालक मुख्तार बाबा की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. मुख्तार बाबा पर पुलिस कमिश्नर का शिकंजा कसने जा रहा है. 2019 और 2020 में मुख्तार बाबा के खिलाफ दर्ज मामलों में उन्हें क्लीन चिट देने वाले प्रशासनिक अफसरों पर भी पुलिस की नज़र अब टेढ़ी हुई है. माना जा रहा है कि उन अधिकारियों पर जल्द गाज गिर सकती है.

दरअसल 2019 में हुए सीएए विरोध प्रदर्शनों के दौरान मुख्तार बाबा पर हिंसा फैलाने के लिए बाबा बिरयानी में बैठक करने और उपद्रवियों की फंडिंग करने का आरोप लगा था. इसके अलावा आरोप है कि  2020 में बजरिया थाने में दर्ज हुई FIR से पुलिस अफसर ने मुख्तार बाबा का नाम निकलवाया था. यह FIR राम जानकी मंदिर को कथित रूप से तोड़ने और दस्तावेजों में छेड़छाड़ कर कब्जा करने के आरोप में दर्ज हुई थी. 2019 में तत्कालीन ACM-3 और साल 2020 में ACM-7 ने जांच में बाबा को क्लीन चिट दी थी.

अब इस पूरे मामले में उस दौरान जांच करने वाले संबंधित अधिकारियों की फाइल खोली जा रही है. पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा ने इस मामले में जांच के आदेश दिए है. खबर है कि पुलिस विभाग समेत प्रशासनिक अधिकारियों को रडार पर रखते हुए इनके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की गई है.

दरअसल मुख्तार बाबा पर शत्रु संपत्ति के नाम पर कई जमीनों पर कब्जे का भी आरोप है. मुख्तार बाबा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने वालों ने आरोप लगाया है कि कानपुर में आतंक का पर्याय बने d2 गैंग के सभी सदस्यों समेत सरगना से मुख्तार बाबा का सीधा संपर्क था, जिसके चलते मुख्तार बाबा जिस संपत्ति पर अपनी नजर डाल देता था वह संपत्ति उसकी हो जाती थी.

Tags: Kanpur news, Kanpur violence, UP police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर