कानपुर: पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ दोहरे हत्याकांड का आरोपी, पैर में लगी गोली
Kanpur News in Hindi

कानपुर: पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ दोहरे हत्याकांड का आरोपी, पैर में लगी गोली
पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ दोहरे हत्याकांड का आरोपी

चौबेपुर थाना क्षेत्र के उदेतपुर गांव में लोग होली जलाने की तैयारी कर रहे थे. तभी रुपए नहीं देने पर दबंग भगवती गुड़िया ने दो युवकों की उस्तरे से वार करने के बाद ईंट-पत्थर से कूच कर हत्या कर दी थी.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर जिले (Kanpur) में पुलिस (Police) ने दोहरे हत्याकांड (Double Murder) के आरोपी को मुठभेड़ (Encounter) के बाद गिरफ्तार कर लिया. मुठभेड़ में हत्यारोपी के पैर में गोली लगी है. पुलिस को उसके पास से अवैध असलहा औऱ दो कारतूस मिले हैं. पुलिस ने घायल हत्यारोपी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है. बता दें होली की रात हत्यारोपी ने बेरहमी से दो दोस्तों की हत्या कर दी थी.

होलिका दहन के दिन हुई थी दो दोस्तों की हत्या

चौबेपुर थाना क्षेत्र के उदेतपुर गांव में लोग होली जलाने की तैयारी कर रहे थे. तभी रुपए नहीं देने पर दबंग भगवती गुड़िया ने दो युवकों की उस्तरे से वार करने के बाद ईंट-पत्थर से कूच कर हत्या कर दी थी. दोहरे हत्याकांड की वारदात से गांव में हड़कंप मच गया था. जिसके बाद लोगों ने होली नहीं मनाने का फैसला किया. पुलिस ने तनाव को देखते हुए गांव में पीएसी तैनात कर दी थी. हत्या की वारदात के बाद से पुलिस सरगर्मी से भगवती की तलाश कर रही थी.



आलाक़त्ल बरामदगी के दौरान हुई मुठभेड़
चौबेपुर पुलिस का दावा है कि दोहरे हत्याकांड में वांछित हत्यारोपी भगवती उर्फ अजय को पुलिस ने 11 मार्च को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस देर रात उससे उस्तरे की बरामदगी कराने के लिए लेकर गयी थी. गांव के बाहर उस्तरा छिपाए जाने के स्थान पर भगवती उन्हें ले गया. जहां पहले से छिपा कर रखे तमंचे को निकाल लिया. जिसके बाद उसने पुलिस पर फायरिंग कर दी. जिस पर पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की तो पुलिस की गोली उसके पैर में लगी. जिससे वह घायल हो कर गिर गया. पुलिस ने दोबारा उसे हिरासत में लिया और मौके से खून से सना उस्तरा बरामद किया. पुलिस को उसके पास से एक देसी तमंचा, दो खोखा और दो जिंदा कारतूस बरामद हुए. जिसके बाद उसे पुलिस हिरासत में इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया.

एसएसपी कानपुर अनंतदेव तिवारी का कहना है कि घटना के बाद से पुलिस हत्यारोपी की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही थी. 11 मार्च को भगवती अपने एक रिश्तेदार के यहां से गिरफ्तार हुआ. देर रात आलाकत्ल बरामदगी के दौरान उसने पुलिस पर फायरिंग की और जवाबी कार्रवाई में घायल हुआ. घटना के वक्त भगवती के साथ कुछ औऱ लोग भी थे जिनकी गिरफ्तार के लिए प्रयास किया जा रहा है.

भी पढ़ें:

बाबरी विध्वंस केस में 12 मार्च से गवाही, राम विलास वेदांती सहित 6 तलब

सपना चौधरी के गाने पर शामली एसपी विनीत जायसवाल का जबर्दस्त डांस, वीडियो वायरल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज