लाइव टीवी

कानपुर: CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं को पुलिस ने जबरन हटाया, माहौल तनावपूर्ण
Kanpur News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 10, 2020, 7:56 AM IST
कानपुर: CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं को पुलिस ने जबरन हटाया, माहौल तनावपूर्ण
पुलिस की कार्रवाई के बाद इलाके में तनावपूर्ण माहौल है.

Anti CAA Protest: शनिवार को धरना खत्म करने का ऐलान करने के बाद भी करीब 100 से ज्यादा लोग धरने पर डटे हुए थे. पुलिस ने पत्‍थरबाजी का भी आरोप लगाया है.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ पिछले तीन सफ्ताह से धरने पर बैठी महिलाओं को पुलिस (UP Police) ने सोमवार तड़के जबरन हटा दिया. शहर के चमनगंज स्थित मोहम्मद अली पार्क में पुलिस ने लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया, जिसके बाद पुलिस और भीड़ आमने-सामने आ गई. पुलिस की इस कार्रवाई के बाद से इलाके में तनाव बना हुआ है.

दरअसल, शनिवार को धरना खत्म करने का ऐलान करने के बाद भी करीब 100 से ज्यादा लोग धरने पर डटे हुए थे. पुलिस ने रात में उन्हें पार्क खाली करने को कहा था, सुबह करीब 5 बजे स्थिति बिगड़ गई. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठी चार्ज करके उन्हें पार्क से बाहर कर दिया. उधर, महिलाओं का आरोप है कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन को पुलिस ने जबरन खत्म कराया है.

पुलिस पर फेंके गए पत्थर
पुलिस का कहना है कि भीड़ की तरफ से पत्थर फेंके गए, जिसके बाद लाठीचार्ज किया गया और प्रदर्शनकारियों को पार्क से बाहर कर उसे खाली कराया गया.

डीआईजी ने देशद्रोह की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करने की कही थी बात
बता दें कि शुक्रवार को डीआईजी अनंत देव ने दो टूक कहा था कि 80 लोगों को नोटिस और 200 लोगों को पाबंद करने के बाद भी धरना खत्म न हुआ तो पुलिस देशद्रोह की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी करेगी. धरने का चेहरा बने और उपद्रवियों को पनाह देने के आरोपियों पर रासुका (राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून) के तहत कार्रवाई होगी. डीआईजी ने कहा कि मोहम्मद अली पार्क और फूल पार्क में धरने को बाहरी लोग उकसा रहे हैं.
(इनपुट: श्याम तिवारी)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 7:48 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर