Assembly Banner 2021

गैंगस्टर विकास दुबे के दो साथियों को फरीदाबाद कोर्ट ने कानपुर पुलिस को सौंपा

फरीदाबाद कोर्ट का बड़ा फैसला.

फरीदाबाद कोर्ट का बड़ा फैसला.

फरीदाबाद कोर्ट (Faridabad Court) ने आरोपी प्रभात उर्फ कार्तिकेय को 24 घंटे के ट्रांजिट रिमांड पर कानपुर पुलिस को सौंप दिया है. वहीं, बाकी दो आरोपी अंकुर और श्रवण को न्यायिक हिरासत (Judicial custody) में भेजा दिया है.

  • Share this:
फरीदाबाद. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानुपर में 8 पुलिसवालों की हत्या के आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) के 3 साथी गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बुधवार को प्रभात, अंकुर और श्रवण को फरीदाबाद कोर्ट में पेश किया. बड़ा फैसला लेते हुए फरीदाबाद कोर्ट (Faridabad Court) ने आरोपी प्रभात उर्फ कार्तिकेय को 24 घंटे के ट्रांजिट रिमांड पर कानपुर पुलिस को सौंप दिया है. वहीं,  बाकी दो आरोपी अंकुर और श्रवण को न्यायिक हिरासत (Judicial custody) में भेजा दिया है.

मालूम हो कि कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार चल रहे विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है. यूपी सरकार ने इस दौरान विकास दुबे पर इनाम भी बढ़ाकर 5 लाख घोषित कर दिया है. वहीं विकास दुबे के अलावा उसकी पत्नी रिचा दुबे भी फरार चल रही है, पुलिस उसकी भी तलाश में है. वहीं, विकास दुबे की राजनीतिक लोगों से करीबी इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई है. इस बीच कुछ कागजात वायरल हो रहे हैं. इनके अनुसार कुख्यात विकास दुबे की पत्नी रिचा सपा की सक्रिय सदस्य थी. उसने 2015 में 20 हज़ार रुपये  समाजवादी बुलेटिन की आजीवन सदस्यता शुल्क दिया था.

Youtube Video




फरीदाबाद में देखा गया था संदिग्ध शख्स
बता दें कि फरीदाबाद में एक दुकान के बाहर एक शख्स को देखा गया जिसे देखने के बाद यह अनुमान लगाया जा रहा है कि वह शख्स अपराधी विकास दुबे है. यह फुटेज दुकान के बाहर मौजूद एक सीसीटीवी में कैद हुई है. वहीं ये भी संभावना व्यक्त की गई है कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे नोएडा कोर्ट में सरेंडर कर सकता है. जिसके चलते पुलिस सूरजपुर कोर्ट में मास्क हटाकर जांच कर रही है. वहीं परिसर को सील कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: रेलवे ने बिहार सरकार को सौंपी 12581 बेड की 55 कोविड कोच, पटना में 235 हुए केस

बढ़ाई गई इनाम की राशि

फरार चल रहे मोस्ट वांटेड अपराधी विकास दुबे पर अब इनाम की राशि बढ़ाकर पांच लाख रुपए कर दी गई है. इससे पहले उसपर ढाई लाख का इनाम घोषित था. इनाम राशि के आधार पर अब वह यूपी का सबसे बड़ा अपराधी बन गया है. विकास दुबे के बाद मेरठ का बदर सिंह बद्दो और एनआईए अधिकारी तंजील अहमद हत्याकांड में शामिल शूटर आशुतोष का नाम है, जिनके ऊपर ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित है. इससे पहले डकैत बाबुली कोल पर भी पांच लाख का इनाम घोषित किया गया था.

हत्याकांड के बाद से ही पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहे अपराधी विकास दुबे के ऊपर चौथी बार इनाम की राशि बढ़ायी गई है. पहले 50 हजार, उसके बाद एक लाख, फिर ढाई लाख और अब उसकी जानकारी देने वाले को पांच लाख का इनाम मिलेगा. बताया जा रहा है कि गिरफ़्तारी में देरी की वजह से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद नाराज हैं. जिसकी वजह से इनाम की राशि शासन की तरफ से बढ़ा दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज