कानपुर कांड: राहगीरों को विकास दुबे का दिखाया जा रहा पोस्टर, पकड़वाने की अपील
Kanpur News in Hindi

कानपुर कांड: राहगीरों को विकास दुबे का दिखाया जा रहा पोस्टर, पकड़वाने की अपील
राहगीरों को विकास दुबे के पोस्टर दिखाकर भी पुलिस कर रही तलाश

अब कानपुर (Kanpur) में अपराधी विकास दुबे के पोस्टर चस्पा किए गए हैं. साथ ही पुलिस राहगीरों को भी उसकी पोस्टर दिखाकर तलाश में जुटी है.

  • Share this:
कानपुर. चौबेपुर (Chaubeypur) थाना क्षेत्र के विकरू गांव में एक सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाला दहशतगर्द विकास दुबे (Vikas Dubey) वारदात के 72 घंटे बाद भी फरार है. 40 थानों की पुलिस फोर्स (Police) और एसटीएफ (STF) की टीम भी अभी तक विकास दुबे का पता नहीं लगा सकी हैं. अब कानपुर (Kanpur) में अपराधी विकास दुबे के पोस्टर चस्पा किए गए हैं. साथ ही पुलिस राहगीरों को भी उसकी पोस्टर दिखाकर तलाश में जुटी है. पुलिस राहगीरों से भी विकास दुबे को पकड़वाने की अपील कर रही है.

बता दें कानपुर की सीमाओं में विकास दुबे के पोस्टर चस्पा किए गए हैं. साथ ही पूरे 75 जिलों को अलर्ट पर रखा गया है. चम्बल के बीहड़ों से लेकर हर जगह उसकी तलाश की जा रही है, लेकिन बावजूद उसके विकास दुबे का कोई सुराग नहीं लग रहा है. बता दें पुलिस ने विकास दुबे पर इनाम की राशि 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख रुपए कर दिया है.

करीबियों पर लगातार हो रही कार्रवाई



इस बीच पुलिस विकास दुबे की प्रॉपर्टी व बैंक अकाउंट सीज करने के साथ ही उसके करीबियों से भी पूछताछ कर रही है. रविवार को पुलिस ने विकास दुबे के सहयोगी दयाशंकर अग्निहोत्री को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया. दयाशंकर ने बताया कि पुलिस की दबिश से पहले ही थाने से किसी ने फोनकर रेड की सूचना दे दी थी. जिसके बाद विकास दुबे ने अपने असलहेधारी साथियों को बुलाया और घात लगाकर पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग की. इस वारदात में सीओ बिल्ल्हौर देवेन्द्र कुमार मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी, जबकि छह अन्य घायल हो गए.
विकास दुबे के पास मौजूद है पुलिस से लूटी गई AK-47 व अन्य असलहे

फरार चल रहे विकास दुबे की तलाश में पुलिस चप्पे-चप्पे को छान रही है. पुलिस को आशंका है कि वह चंबल के रास्ते बीहड़ों से होते हुए मध्य प्रदेश व राजस्थान भाग सकता है. पुलिस ने चंबल में भी तलाशी अभियान चला रही है. बता दें विकास दुबे के पास पुलिस लूटी गई एके-47 और अन्य असलहा  मौजूद हो सकता है.

(इनपुट: श्याम तिवारी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज