कानपुरः पत्नी और दो बच्चों का गला रेतकर फरार हुआ आरोपी पिता

साधना के भाई की अखिलेश की मानें तो शादी के कुछ महीनों के बाद से ही दोनों के बीच लड़ाई शुरू हो गई थी और बीते दो दिन पहले साधना के घर भी गया था, लेकिन तब दोनों के बीच कोई लड़ाई नहीं थी. फिलहाल, पुलिस आरोपी की पिता की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 9, 2018, 10:42 PM IST
कानपुरः पत्नी और दो बच्चों का गला रेतकर फरार हुआ आरोपी पिता
साधना के भाई की अखिलेश की मानें तो शादी के कुछ महीनों के बाद से ही दोनों के बीच लड़ाई शुरू हो गई थी और बीते दो दिन पहले साधना के घर भी गया था, लेकिन तब दोनों के बीच कोई लड़ाई नहीं थी. फिलहाल, पुलिस आरोपी की पिता की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 9, 2018, 10:42 PM IST
कानपुर जिले में रविवार सुबह एक पिता द्वारा अपने ही मासूम पुत्र-पुत्री और पत्नी का गला रेतने का मामला सामने आया है. ग्रामीणों की सहायता से तीनों को गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया गया, जहां पर से तीनों को हैलेट रेफर कर दिया गया है. मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी पिता को तलाश में जुट गई है.

यह भी पढ़ें-बड़े भाई का दावा पत्नी की वजह से IPS सुरेंद्र ने की आत्महत्या, दर्ज कराएंगे FIR

रिपोर्ट के मुताबिक मामला बिधनू थानाक्षेत्र के काठारा गांव का है. आरोपी पिता की पहचान अजय उर्फ बॉस के रूप में हुई है. बताया जाता है रविवार सुबह आरोपी पिता ने चाकू से अपनी पत्नी व दोनों बच्चों का गला रेतकर फरार हो गया. अजय की शादी 11 वर्ष पहले सचेंडी थानाक्षेत्र के सीढ़ी गांव की साधना से हुई थी और शादी के बाद दोनों के एक बेटी आस्था (10 वर्ष) और बेटा अभिमान (7 वर्ष) हैं.

यह भी पढ़ें-कार में दो सगे भाइयों को उतारा मौत के घाट, फिर खाली प्लॉट में दफनाया

सीएचसी में इलाज के लिए पहुंची घायल पु्त्री आस्था ने बताया कि वो घर के बाहर वाले कमरे में खेल रही थी तभी उसके पिता ने उसे बुलाया और उसके मुंह में कपड़ा ठूंस कर उसकी गर्दन पर चाकू चला दिया और उसके बाद घर में मौजूद उसकी मां और भाई का गला रेतने के बाद घर के पीछे के दरवाजे से फरार हो गया.

बताया जाता है खून से लथपथ आस्था ने छत पर पहुंचकर आसपास के लोगों को आवाज लगाया तो लोगों ने घर का मेन गेट तोड़कर घर में दाखिल हुए और मामले की सूचना पुलिस को देने के बाद आनन-फानन में तीनों को बिधनू सीएचसी पहुंचाया गया, जहां पर तीनों को प्राथमिक उपचार के बाद हैलेट रेफर कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें-VIDEO: नौकरी नहीं मिलने और ताने सुनने से दुखी छात्रा ने घर में लगाई फांसी

साधना के भाई अखिलेश की मानें तो शादी के कुछ महीनों के बाद से ही दोनों के बीच लड़ाई शुरू हो गई थी और बीते दो दिन पहले साधना के घर भी गया था, लेकिन तब दोनों के बीच कोई लड़ाई नहीं थी. फिलहाल, पुलिस आरोपी की पिता की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है.

(रिपोर्ट-सुरभि मिश्रा, कानपुर)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर