Home /News /uttar-pradesh /

Kanpur: 'इस्लाम द ओनली सॉल्यूशन' छपी बिल से हो रहा था धर्म का प्रचार, पर्ची वायरल होने पर हिरासत में दुकानदार

Kanpur: 'इस्लाम द ओनली सॉल्यूशन' छपी बिल से हो रहा था धर्म का प्रचार, पर्ची वायरल होने पर हिरासत में दुकानदार

दुकान के बिल में लिखा इस्लान द ऑनली सॉलूशन

दुकान के बिल में लिखा इस्लान द ऑनली सॉलूशन

Kanpur Viral Shop Bill: कानपुर में एक दुकानदार बिल की पर्ची में धर्म का प्रचार कर रहा है. यहां के मेस्टन रोड में स्थित रबड़ कारोबारी की दुकान की पर्ची में व्यापारिक प्रतिष्ठान की जगह पर व्यापारी का मोबाइल नम्बर लिखा हुआ है. इसके नीचे बड़े बड़े अक्षरों में लिखा गया है "इस्लाम द ओनली सॉल्यूशन".

अधिक पढ़ें ...

कानपुर. कानपुर (Kanpur) में ‘इस्लाम द ओनली सॉल्यूशन’ लिखी हुई बिजनेस इनवाइस (Business Invoice) जारी होने से हड़कम्प मच गया. यहां पर एक कारोबारी अपनी बिजनेस इनवाइस की पर्ची पर ‘इस्लाम द ऑनली सॉल्यूशन’ लिख कर पर्ची काट रहा था. इस पर्ची के सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद पुलिस सक्रिय हो गयी. पुलिस ने कारोबारी को हिरासत में लिया है. पुलिस कारोबारी से पूछताछ कर मामले की जांच में जुटी हुई है.

आप जब दुकान से कोई सामान खरीदते हैं तो दुकानदार आपको बिल देता है. कानपुर में एक दुकानदार बिल की पर्ची में धर्म का प्रचार कर रहा है. यहां के मेस्टन रोड में स्थित रबड़ कारोबारी की दुकान की पर्ची में व्यापारिक प्रतिष्ठान की जगह पर व्यापारी का मोबाइल नम्बर लिखा हुआ है. इसके नीचे बड़े बड़े अक्षरों में लिखा गया है “इस्लाम द ओनली सॉल्यूशन” यानी इस्लाम ही एक मात्र समाधान है. रबड़ कारोबारी की यह पर्ची सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रही है.

हिरासत में दुकानदार
पर्ची वायरल होने के बाद कानपुर कमिश्नरेट पुलिस हरकत में आ गयी. जिसके बाद पुलिस ने मेस्टन रोड में स्थित रबड़ कारोबारी को हिरासत मे लिया। पुलिस कारोबारी से पूछताछ कर रही है. डीसीपी ईस्ट प्रमोद कुमार ने कहा कि इंटरनेट मीडिया के जरिए मामला संज्ञान में आया. जिसके बाद पुलिस ने कारोबारी को चिन्हित कर लिया और उसे उसे तलब किया गया है. आरोपी दुकानदार से पूछताछ की जा रही है. पूछताछ के बाद मिली जानकारी औऱ जांच के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

इन धाराओं में FIR दर्ज
पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने बताया कि व्यापारी के खिलाफ आईपीसी धारा 505 (2) (विभिन्न समुदायों के बीच शत्रुता, घॄणा या वैमनस्य की भावनाएं पैदा करने के आशय से असत्य कथन, जनश्रुति, आदि, परिचालित करना) में रिपोर्ट दर्ज की गई है। धारा के तहत मामले में तीन साल की सजा और जुर्माना है. लिहाजा व्यापारी को थाने से जमानत देकर छोड़ा जाएगा.

Tags: Kanpur news, Kanpur Police, Latest kanpur news, Up news in hindi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर