• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • दूसरी डोज लगवाने के लिए परेशान हो रहे है कनपुरिये 

दूसरी डोज लगवाने के लिए परेशान हो रहे है कनपुरिये 

कानपुर

कानपुर शहर में अब तक करीब 5 लाख लोगों को लग पाई हैं वैक्सीन की दोनो डोज

सरकार द्वारा चलाए जा रहे मेगा वैक्सीनेशन अभियान के अंतर्गत रोजाना हजारों लोगों को कोरोनारोधी वैक्सीन की डोज लगा रही है, लेकिन सरकारी आकड़ों को ही देखा जाए तो अब तक शहर की आधी आबादी का वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है. सरकार द्वारा किये जा रहे दावों के मुताबिक दिसंबर तक शहर का हर एक व्यक्ति को वैक्सीन लग जाएगी.

  • Share this:

    10 साल पहले हुई जनगणना के मुताबिक शहर की आबादी करीब 52 लाख थी, जानकारों की मानें 10 सालों में कानपुर की आबादी में काफी इजाफा हुआ है. अब शहर की आबादी लगभग 68 से 70 लाख के आसपास पहुंच गई है. सरकार द्वारा चलाए जा रहे मेगा वैक्सीनेशन अभियान के अंतर्गत  रोजाना हजारों लोगों को कोरोनारोधी वैक्सीन की डोज लगा रही है, लेकिन सरकारी आकड़ों को ही देखा जाए तो अब तक  शहर की आधी आबादी का  वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है. सरकार द्वारा किये जा रहे दावों के मुताबिक दिसंबर तक शहर का हर एक व्यक्ति को वैक्सीन लग जाएगी.

    सरकारी आकड़े ही खोल रहे खोखले दावों की पोल 
    स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कानपुर नगर में 16 जनवरी से शुरू हुए अभियान में 18 सितम्बर तक सिर्फ 1672721 लोगों को पहली डोज लगी है. वहीं, दूसरी डोज के आकड़े तो और भी अधिक चौकाने वाले है. अब तक शहर में 18 सितम्बर तक सिर्फ 495143 लोगों को ही दूसरी डोज लगी है. इन आकड़ों के हिसाब से सरकार के सारे दावे खोखले साबित होते दिख रहे है. 70 लाख की आबादी वाले शहर में सिर्फ 495143 लोगों का ही वैक्सीनेशन पूरा हो पाया है.
    दोबारा देखने को मिल सकता है दूसरी लहर जैसा मंजर 
    जानकारों की मानें तो अगर कोरोना की संभावित तीसरी लहर ने शहर में दस्तक दे दी तो दूसरी लहर जैसा मंजर एक बार देखने को मिल सकता है. दरअसल, कोरोनारोधी वैक्सीन लगने के कुछ दिन तक व्यक्ति के शरीर का इम्युनिटी सिस्टम थोड़ा वीक रहता है, ऐसे में अगर तीसरी लहर आती है तो शहर में खतरा बढ़ सकता है.
    दूसरी डोज के लिए यहां-वहां भटक रहे लोग
    शहर में दूसरी डोज लगवाने वाले लोगों को एक वैक्सीनेशन सेंटर से दूसरे में दौड़ लगानी पड़ रही है. कृष्णा नगर की रहने वाली प्रतिमा पांडेय और उनके बेटे को वैक्सीन की दूसरी डोज लगनी थी. उनका कहना था कि जो सेंटर पहले उन्हें एलॉट हुआ वहां जब हम अपने नियत समय पर पहुंचे तो वहां वैक्सीन खत्म हो गयी, इसके बाद जब हमने अगले दिन वैक्सीन स्लॉट दोबारा बुक किया तो कल्याणपुर का सेंटर मिला, जोकि हमारे घर से करीब 45 किलोमीटर दूर है, वहां पर भी गए तो वैक्सीन नहीं लगी. ऐसा सिर्फ इनके साथ नहीं शहर के ज्यादातर लोगों के साथ हो रहा है.

    न्यूज 18 लोकल के लिए आलोक तिवारी की रिपोर्ट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज