Home /News /uttar-pradesh /

जानिए कानपुर की वीआईपी विधानसभा सीट महाराजपुर की जनता का मिजाज और क्या हैं उनके प्रमुख मुद्दे

जानिए कानपुर की वीआईपी विधानसभा सीट महाराजपुर की जनता का मिजाज और क्या हैं उनके प्रमुख मुद्दे

आवारा

आवारा जानवर आवासीय परिसर में घूमते हुए

सात बार से लगातार विधायक कैबिनेट मंत्री सतीश महाना विधानसभा महाराजपुर से लगातार दो बार से विधायक हैं.परिसीमन के बाद 2 बार इस सीट पर चुनाव हुए हैं. BSP के मनोज शुक्ला को 90 हज़ार से ज्यादा वोटों से महाना ने धूल चटाई थी.पांच बार कैंट विधानसभा से जबकि दो बार महाराजपुर से विधायक हैं.

अधिक पढ़ें ...

    सात बार से लगातार विधायक कैबिनेट मंत्री सतीश महाना विधानसभा महाराजपुर से लगातार दो बार से विधायक हैं.परिसीमन के बाद 2 बार इस सीट पर चुनाव हुए हैं. BSP के मनोज शुक्ला को 90 हज़ार से ज्यादा वोटों से महाना ने धूल चटाई थी.पांच बार कैंट विधानसभा से जबकि दो बार महाराजपुर से विधायक हैं. साल 1991 से जबसे महाना ने चुनाव लड़ना शुरू किया तबसे वो आज तक हारे ही नहीं.
    कुल वोटर- 4 लाख 35 हज़ार
    बूथ- 449
    वोटर – 900वोटर/बूथ

    जातिगत आंकड़े-
    ब्राह्मण- 1.5 लाख
    ठाकुर- 60 हज़ार
    OBC- 1.35 लाख
    दलित- 60 हज़ार
    मुस्लिम- 30 हज़ार

    प्रमुख मुद्दे- सोसाइटी क्षेत्र की समस्या, बिजली के खंभे नहीं लगना, सीवर लाइन और पेयजल, जाम

    फैक्टर
    1. विधायक की साफ सुथरी, सर्व सुलभ छवि
    2. इस विधानसभा क्षेत्र में जातियों की गोलबंदी का गणित पिछले कई सालों से फ्लॉप होता आ रहा है. खत्री वोट 1 हज़ार है। कुल वोट 4 लाख, महान फिर भी जीत रहे हैं.
    3. ब्राह्मणों का रुख

    बड़े नेता-
    1. लाल सिंह तोमर- सरसौल से ब्लॉक प्रमुख रहे. एमएलसी रहे लाल सिंह सपा के कद्दावर नेता माने जाते हैं. बिल्हौर लोकसभा से 2 बार चुनाव लड़े. अकबरपुर लोकसभा से भी चुनाव लड़े. कानपुर नगर, देहात और फतेहपुर में अच्छा खासा प्रभाव है.

    2. राजाराम पाल- कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव राजाराम पाल बड़े नेता हैं. BSP से सांसद रहे राजाराम पाल इस क्षेत्र में काफी प्रभावी हैं.विधानसभा चुनाव में खड़े हुए लेकिन सतीश महाना के सामने टिक नहीं पाए. राहुल गांधी के बेहद करीबी माने जाते हैं.

    3. कनिष्क पांडेय- कांग्रेस की युवा टीम के उभरते नेता हैं.प्रियंका-राहुल की ब्रिगेड के अगुवा नेता माने जाते हैं.महराजपुर सीट से दिग्गजों के चुनाव न लड़ने की उम्मीद के बीच कनिष्क मोर्चा संभाल सकते हैं. NSUI के पूर्व अध्यक्ष, यूपी कांग्रेस के सचिव रहे हैं और वर्तमान में युथ कांग्रेस के अध्यक्ष हैं.

    4. अनंत मिश्र- पूर्व स्वास्थ्य मंत्री अंटू मिश्रा अपनी बात करने की शैली के लिए जाने जाते हैं. सतीश चंद्र मिश्रा के बेहद खास और पार्टी का ब्राह्मण चेहरा हैं अनंत मिश्रा. महराजपुर से बीएसपी का चेहरा बन सकते हैं.

    (रिपोर्ट आलोक तिवारी)

    Tags: Assembly, Election, Kanpur news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर