कोरोना पॉजिटिव पार्षद और उनके पति हुए स्वस्थ, स्वागत को उमड़ी भीड़, एफआईआर
Kanpur News in Hindi

कोरोना पॉजिटिव पार्षद और उनके पति हुए स्वस्थ, स्वागत को उमड़ी भीड़, एफआईआर
कोरोना पॉजिटिव पार्षद और उनके पति हुए स्वस्थ

मामले पर पुलिस अधीक्षक दक्षिण (SP South) अर्पणा गुप्ता ने बताया लॉकडाउन (Lockdown) का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ ही कार्रवाई हुई है. जिसमें बाबू पुरवा के बेगम पुरवा के रहने वाले पार्षद और उनके समर्थक शामिल है.

  • Share this:
कानपुर. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना वायरस (COVID-19) की रोकथाम को लेकर देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) की अवधि को 31 मई तक बढ़ा दिया है. इसी बीच यूपी के कानपुर (Kanpur) में सोमवार को चौंकाने वाली तस्वीर सामने आई. यहां एक पार्षद दंपति ने कोरोना की जंग तो जीत ली, मगर अस्पताल से छुट्टी पाने के बाद इलाके में पहुंचते ही अपना स्वागत कराना शुरू करवा दिया. इस दौरान जब पार्षद पति इरफान और पार्षद शाहिद घर पहुंचने वाले थे, तो बड़ी संख्या में लोगों ने उन्हें माला पहनना शुरू कर दिया. मामला सामने आने के बाद पुलिस ने पार्षद दंपति समेत 70 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है.

इस दौरान बच्चे भी खुलेआम पार्षद के आस-पास ही खड़े हुए नजर आये, तो कई लोग ऐसे भी थे जिन्होंने मास्क तक नहीं पहना हुआ था. कोरोना के मामलों में कई बार ये भी बात सामने आई है कि लोगो की रिपोर्ट निगेटिव होने के बाद फिर से पॉजिटिव आ जाती है. ऐसे में पार्षद ने जिस तरह से अस्पताल से छुट्टी मिलते ही अपने स्वागत कराया तो वही भारी भीड़ को रोकने का प्रयास भी नहीं किया. वहीं अपने स्वागत से अति उत्साहित भी नजर आए.

ऐसे में लोगों को बड़ा खतरा भी हो सकता था. एसपी दक्षिण अर्पणा गुप्ता के निर्देश पर बाबू पुरवा पुलिस ने पार्षद और उसके पति सहित अन्य 70 अज्ञात लोगों पर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है. इसकी सूचना जब पार्षद और उनके समर्थकों को लगी है तो उन में हलचल मचा हुआ है. मामले पर पुलिस अधीक्षक दक्षिण अर्पणा गुप्ता ने बताया लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ ही कार्रवाई हुई है.जिसमें बाबू पुरवा इलाके के रहने वाले पार्षद और उनके समर्थक शामिल है. उन्होंने बताया कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.



ये भी पढ़ें:
जौनपुर: पूर्व सांसद धनंजय सिंह को बड़ी राहत, बयान से पलटा जल निगम का अधिकारी

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज