शहीद DSP देवेंद्र मिश्रा का अंतिम संस्कार, मुखाग्नि देकर बोली बेटी- I am proud of my father
Kanpur News in Hindi

शहीद DSP देवेंद्र मिश्रा का अंतिम संस्कार, मुखाग्नि देकर बोली बेटी- I am proud of my father
कानपुर एनकाउंटर में शहीद सीओ को उनकी बेटी वैष्णवी ने दी मुखाग्नि

कानपुर (Kanpur) में शहीद डीएसपी देवेंद्र मिश्रा की बड़ी बेटी वैष्णवी शनिवार को पिता के शव के साथ भैरव घाट पहुंची. पिता को मुखाग्नि देने के बाद वैष्णवी ने पत्रकारों के सवालों पर कहा कि मुझे अपने पिता की शहादत पर फक्र है.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में चौबेपुर के विकरू गांव में पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में एक सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद (Martyr) हो गए. शनिवार को शहीद डीएसपी देवेंद्र मिश्रा का अंतिम संस्कार भैरव घाट पर किया गया. इस दौरान उनकी बड़ी पुत्री वैष्णवी ने मुखाग्नि दी. मौके पर एडीजी, आईजी, एसएसपी समेत जिले के अधिकारी मौजूद रहे. शहीद डिप्टी एसपी देवेंद्र मिश्रा की बड़ी बेटी वैष्णवी इस दौरान न्यूज़18 पर रोते-रोते बोली कि I am proud of my father. दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले.

बांदा के रहने वाले थे शहीद सीओ

बता दें शहीद सीओ देवेंद्र मिश्रा बांदा जिले के सहेवा गांव के रहने वाले थे. उनके पैतृक गांव में भी गम का माहौल बना हुआ है. परिजनों और गांव के लोगों में घटना के बाद से भारी आक्रोश देखने को मिल रहा है. शहीद सीओ की बड़ी बेटी वैष्णवी शनिवार को पिता के शव के साथ भैरव घाट पहुंची. पिता को मुखाग्नि देने के बाद वैष्णवी ने पत्रकारों के सवालों पर कहा कि मुझे अपने पिता की शहादत पर फक्र है. पिता का स्थान कोई नहीं ले सकता. दोषी व्यक्तियों पर पुलिस को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.



विकास दुबे सहित 35 पर एफआईआर
उधर फरार अभियुक्त विकास दुबे (Vikas Dubey) सहित 35 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है. हत्या, लूट, 7 सीएलए, सरकारी कार्य में बाधा सहित कई धाराओं में ये मुकदमा दर्ज किया गया है. चौबेपुर थाने में एफआईआर दर्ज हुई है. उधर लखनऊ में विकास दुबे के घर पर छापेमारी में विकास के भाई की पत्नी के पास लाइसेंसी रिवाल्वर मिली है. इस रिवाल्वर के लाइसेंस की पुलिस जांच कर रही है.

रात भर चली छापेमारी पर सफलता हाथ नहीं

पुलिस की 100 से ज्यादा टीमें विकास दुबे की गिरफ्तारी में छापेमारी कर रही हैं. इसके तहत शुक्रवार पूरी रात कई गांवों में छापेमारी की गई. इनमें रूरा, रसूलाबाद समेत विकास के कई ठिकानों पर छापेमारी की गई. फिलहाल पुलिस को सफलता हाथ नहीं लगी है. उधर वारदात के बाद आरोपी विकास दुबे के गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है. गांव में ज्यादातर घरों में ताला लग गया है. वहीं विकास की सूचना देने वाले को 50 हजार रुपये इनाम की घोषणा भी कर दी गई है.

इनपुट: अमित गंजू
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading