कानपुर शहर में शुरू हुआ ऑक्सीजन लंगर, गुमटी गुरुद्वारे के बाहर बीमारों को मिल रही राहत की 'सांस'

कानपुर में गुमटी गुरुद्वारे के बाहर ऑक्सीजन लंगर लगाया गया है.

कानपुर में गुमटी गुरुद्वारे के बाहर ऑक्सीजन लंगर लगाया गया है.

Kanpur News: गुरु सिंह सभा कानपुर और समूह कानपुर सिक्ख संगत की तरफ से इस ऑक्सीजन लंगर का आयोजन किया जा रहा है. यहां किसी भी जरूतमंद को फौरन चिकित्सकीय देखरेख में ऑक्सीजन दी जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 6:44 PM IST
  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में कोरोना संकमण (COVID-19 Infection) के चलते हालात बेकाबू होते दिख रहे हैं. अस्पतालों में बेड को लेकर मारामारी देखने को मिल रही है, वहीं कई मरीज ऐसे हैं, जिन्हें ऑक्सीजन मिलना दूभर है. दवओं, एंबुलेंस को लेकर मारामारी अलग से है. इस बीच गुमटी गुरुद्वारे की तरफ से एक ऑक्सीजन लंगर की शुरुआत की गई है. यहां कोरोना संक्रमित मरीजों को राहत देने के लिए लंगर लगाकर ऑक्सीजन की सुविधा दी जा रही है.

गुरु सिंह सभा कानपुर और समूह कानपुर सिक्ख संगत की तरफ से इस ऑक्सीजन लंगर का आयोजन किया जा रहा है. यहां किसी भी जरूतमंद को फौरन चिकित्सकीय देखरेख में ऑक्सीजन दी जा रही है.

ऑक्सीजन लंगर में कई मरीजों काे दी जा रही राहत

kanpur oxygen langar
कानपुर में गुमटी गुरुद्वारे के बाहर ऑक्सीजन लंगर लगाया गया है.

कोरोना संक्रमण हुआ तेज

बता दें कानपुर में कोरोना संक्रमण की रफ़्तार बेलगाम हो चुकी है. पिछले 24 घंटों में 2000 से ज्यादा नए मरीज सामने आए हैं. इस दौरान 25 मरीजों की मौत भी हो गई. प्रदेश में ऑक्सीजन की किल्लत नहीं होने की बात कही जा रही है, वहीं कानपुर में ऑक्सीजन प्लांट के बाहर लगी लोगों की लाइन उनके दावों की पोल खोल रही है. आलम यह है कि ऑक्सीजन की कमी का हवाला देते हुए प्राइवेट अस्पतालों में मरीजों को एडमिट नहीं किया जा रहा है.

Youtube Video




मरीजों से ही मंगा रहे ऑक्सीजन

मरीजों को लेकर पहुंच रहे तीमारदारों को घर में ही ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर पेशेंट को लगाने को कह रहे हैं. इतना ही नहीं यदि अस्पताल पेशेंट को एडमिट करते हैं तो गैस सिलेंडर की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी तीमारदार के ऊपर डाल देते हैं. जिसके बाद तीमारदार पहले खाली सिलेंडर का इंतजाम करता है और उसके बाद फिर भरवाने के लिए घंटों प्लांट पर लाइन लगाता है. इस दौरान तपती धूप में खड़ा तीमारदार कभी पुलिसवालों की तो कभी प्लांट संचालक की दुत्कार सुनता है.

रात से ही लाइन में लगे हैं तीमारदार

ऐसा ही कुछ नजारा फजलगंज स्थित बब्बर ऑक्सीजन प्लांट पर देखने को मिला, जहां आधी रात से रात से ही लोग  सिलिंडर के साथ लाइन में लगे नजर आए. तीमारदारों का कहना था कि 12 बजे पर्ची कटेगी, फिर उसके बाद ऑक्सीजन मिलेगी. लाइन में लगे तीमारदारों का कहना था कि अस्पतालों में बेड खाली नहीं है. डॉक्टर्स कह रहे हैं मरीज को घर में ही रखो. जहां बेड मिल भी रहा है तो वहां पहले ऑक्सीजन की व्यवस्था करने को कहा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज