Home /News /uttar-pradesh /

IT Raid: Piyush Jain ने कितनी की है टैक्स चोरी? सामने आया कानपुर के 'कुबेर' का अरेस्ट मेमो

IT Raid: Piyush Jain ने कितनी की है टैक्स चोरी? सामने आया कानपुर के 'कुबेर' का अरेस्ट मेमो

Piyush Jain News: पीयूष जैन की फाइल फोटो

Piyush Jain News: पीयूष जैन की फाइल फोटो

Piyush Jain News: पीयूष जैन का अरेस्ट मेमो भी सामने आया है, जिसमें कहा गया है कि कानपुर से रेड में मिला पूरा पैसा पीयूष जैन के कारोबार का है और उसने टैक्स की चोरी की है. बता दें कि पीयूष जैन (Piyush Jain News) के घरों से छापेमारी के दौरान करीब 196 करोड़ रुपए कैश, 23 किलो सोना और 600 किलो चंदन के तेल मिले हैं.

अधिक पढ़ें ...

कानपुर: उत्तर प्रदेश के इत्र कारोबारी पीयूष जैन (Piyush Jain) के कानपुर (Kanpur News) और कन्नौज (Kannauj Raid) वाले घरों से मिले अकूत खजानों की खबर अब पूरी दुनिया को हो गई है. पीयूष जैन (Piyush Jain News) के घरों से छापेमारी के दौरान करीब 196 करोड़ रुपए कैश, 23 किलो सोना और 600 किलो चंदन के तेल मिले हैं. इस हिसाब के पीयूष जैन के घर से 213 करोड़ रुपए की जब्ती हुई है. इस बीच पीयूष जैन का अरेस्ट मेमो भी सामने आया है, जिसमें कहा गया है कि कानपुर से रेड में मिला पूरा पैसा पीयूष जैन के कारोबार का है और उसने टैक्स की चोरी की है.

पीयूष जैन के अरेस्ट मेमो के मुताबिक, कानपुर से मिला पैसा पीयूष जैन के कारोबार का है. ट्रांसपोर्टर प्रवीण जैन की कंपनी trimurti fragrance के यहां छापेमारी हुई, जिसमें पाना मसाला और सुपारी भेजने में जीएसटी चोरी का पता चला. रेड में फेक इनवॉयस मिले और कंपनी से जुड़े शैलेन्द्र मित्तल के बयान लिए गए. उन्होंने गड़बड़ी मानी. फिर 22 से 25 दिसम्बर के बीच पीयूष जैन के कानपुर के घर में छापेमारी हुई.

आगे बताया गया है कि पीयूष जैन की तीनों कंपनियों में 2021 में केवल 21 करोड़ का लेनदेन दिखाया गया है, जबकि पीयूष जैन की तीनों कंपनियों ने 4 सालों में 177.45 करोड़ का सामान भेजा. इसका मतलब यह हुआ कि हर साल इन्होंने 45 करोड़ का सामान बिना जीएसटी दिए भेजा. इस तरह इन्होंने पिछले 4 सालों में 31.50 करोड़ की चोरी की. इस केस में जीएसटी चोरी करने के लिए जिस तरीके को अपनाया गया और केस से जुड़े बाकी लोगों से भी पूछताछ होनी है और जिस तरह के सबूत मिले हैं, उसके हिसाब से पीयूष जैन जांच को प्रभावित कर सकते हैं, सबूत मिटा सकते हैं. इसलिए इस तरह के मामले की गहन जांच जरूरी है. जीएसटी की टीम ने 7 जगहों पर छापेमारी की. यही वजह है कि पीयूष जैन की गिरफ्तारी हुई.

बता दें कि पीयूष जैन के कानपुर और कन्नौज वाले घरों में हुई छापेमारी का अब तक का ओवरऑल अपडेट आ गया है, जिसके मुताबिक, अब तक कुल मिलाकर टोटल सीजर 213.45 करोड़ रुपए का है, जिसमें कैश, सोने और चंदन के तेल की कीमत भी शामिल है. कुल बरामदगी को इस तरह से समझा जा सकता है कि कानपुर से 177.45 रुपए कैश बरामद हुए हैं, जबकि कन्नौज से 19 करोड़ रुपए मिले हैं. वहीं, 23 किलो सोने की ईंट भी मिली है, जिसकी कीमत करीब 11 करोड़ रुपए है. इसके अलावा, चंदन की लकड़ी का तेल भी मिला है, जो 600 किलो है और उसकी कीमत 6 करोड़ रुपए है. इस तरह से डीजीजीआई की टीम ने कैश और सामान सहित कुल 213.45 करोड़ रुपए जब्त किए हैं.

पीयूष जैन के दोनों घरों से मिले कैश को जीएसटी विभाग ने सीज कर लिया है और सीजीएसटी एक्ट के सक्शन 132 के तहत पीयूष जैन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. कोर्ट ने पीयूष जैन को सोमवार को ही 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. वहीं, पीयूष जैन पर एक और मुसीबत का पहाड़ टूटा है. गोल्ड स्मगलिंग मामले में डीआरआई ने कस्टम एक्ट के 110 के तहत पीयूष जैन के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है और 23 किलो बरामद सोना अपने कब्जे में ले लिया है.

Tags: Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर