Home /News /uttar-pradesh /

Piyush Jain News: कभी करवटें लेता तो कभी टहलता...कैसे बीत रहे जेल के रात-दिन, नोटों के बीच सोने वाले पीयूष जैन को नींद आई?

Piyush Jain News: कभी करवटें लेता तो कभी टहलता...कैसे बीत रहे जेल के रात-दिन, नोटों के बीच सोने वाले पीयूष जैन को नींद आई?

Piyush Jain News: जेल में पहली रात पीयूष जैन को नींद नहीं आई.

Piyush Jain News: जेल में पहली रात पीयूष जैन को नींद नहीं आई.

Piyush Jain News: पीयूष जैन (Piyush Jain) को कानपुर जेल (Kanpur Jila Jail) के कोरोना प्रोटोकॉल के तहत बैरक नंबर 15 में रखा गया है. सोमवार को पीयूष जैन (Piyush Jain News) की जेल में पहली रात थी. उसे जेल में नींद नहीं आ रही थी. वह देर रात तक सोया नहीं और अपने बैरक में ही इधर-उधर टहलता रहा. जेल के सूत्रों ने बताया कि उसने रात का भोजन भी ठीक से नहीं किया. बताया जा रहा है कि वह करीब ढ़ाई-तीन बजे के बीच सोया.

अधिक पढ़ें ...

    कानपुर: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की सीमा से निकलकर देश-विदेश तक अपने ‘काले कारनामों’ वजह से चर्चा में आए कानपुर (Kanpur News) के इत्र कारोबारी पीयूष जैन (Piyush Jain News) को कर चोरी के आरोप में 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. कालेधन के कुबेर के नाम से मशहुर हुए पीयूष जैन (Piyush Jain in Jail) को कानपुर (Kanpur IT Raid) के ही जिला जेल में रखा गया है, जहां उसे नींद नहीं आ रही है. भला नींद भी कैसे आती, जो शख्स नोटों के बीच सोया करता था, आज अचानक जेल में सलाखों के पीछे सो रहा है. पीयूष जैन (piyush jain it raid) सोमवार से ही जेल में बंद है और वह चुपचाप अपने में मग्न है. वह जेल में किसी से बात भी नहीं करता है.

    हिन्दी अखबार हिन्दुस्तान की खबर के मुताबिक, पीयूष जैन (Piyush Jain) को कानपुर जेल के कोरोना प्रोटोकॉल के तहत बैरक नंबर 15 में रखा गया है. सोमवार को पीयूष जैन की जेल में पहली रात थी. उसे जेल में नींद नहीं आ रही थी. कभी वह करवटें लेता तो कभी उठकर वह टहलने लगता. वह देर रात तक सोया नहीं और अपने बैरक में ही इधर-उधर टहलता रहा. जेल के सूत्रों ने बताया कि उसने रात का भोजन भी ठीक से नहीं किया. बताया जा रहा है कि वह करीब ढ़ाई-तीन बजे के बीच सोया.

    यह भी पढ़ें: IT Raid: पीयूष जैन मामले में बड़ा खुलासा, परफ्यूम का पेमेंट लेने का नया तरीका, जानें कैसे करता था कारोबार

    बहरहाल, जेल की सुरक्षा में लगे पुलिसवालों ने पीयूष जैन से देर रात जगे रहने की वजह भी पूछी, मगर पीयूष जैन ने जवाब दिया कि कोई दिक्कत नहीं है, बस उसे नींद नहीं आ रही है. हालांकि, मंगलवार की सुबह वह जेल के नियमों के मुताबिक ही उठा और सुबह समय पर नाश्ता किया. जेल सूत्रों की मानें तो पीयूष जैन को आम कैदियों की तरह ही रखा गया है. उसे जेल नियमों के मुताबिक, कंबल और तकिया मिले हैं.

    जेल में दिन में भी वह किसी से बात नहीं कर रहा. हालांकि, जेल में अन्य कैदी उससे बातचीत करने को आतुर दिखे, क्योंकि सभी जानना चाहते हैं कि आखिर इतना बड़ा खजाना हाथ कैसे लगा. गौरतलब है कि डायरेक्टरेट जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलीजेंस यानी डीजीजीआई अहमदाबाद की टीम ने इत्र कारोबारी पीयूष जैन को बीते दिनों गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था. कोर्ट ने पीयूष को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया. पीयूष जैन पर 31.50 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप है.

    बता दें कि पीयूष जैन के घर से डीजीजीआई की रेड में करीब 194 करोड़ रुपए बरामद हुए हैं. पीयूष जैन के कानपुर और कन्नौज वाले घर पर यह छापेमारी हुई है. कन्नौज में सदर कोतवाली क्षेत्र के छिपट्टी मोहल्ला में ही पीयूष जैन का घर है, जहां पिछले 6 दिनों से सर्च ऑपरेशन चल रहा था. जब नोटों की गिनती पूरी हुई और इसे एसबीआई ब्रांच भेजने के लिए गाड़ी मंगवाई गई तो इन पांच बक्सों को लोड करते वक्त लोगों का हुजूम दिखा. इतना ही नहीं, जो लोग बक्से को गाड़ी पर चढ़ा रहे थे, उन्हें भी काफी मशक्कत करनी पड़ी.

    वहीं सूत्रों ने बताया कि कानपुर में पीयूष जैन के ठिकानों से एजेंसी ने करीब 177 करोड़ रुपये की बरामदगी की है. इस तरह से कानपुर और कन्नौज वाले घर में मिले कुल रकम को मिला दें तो यह करीब 194 करोड़ रुपये होता है. बताया जा रहा है कि पीयूष जैन के कन्नौज के आलीशान बंगले के ठीक करीब में जैन का एक आलीशान गोदाम भी मिला है. यहां से भी कई तरह के केमिकल बरामद किए गए हैं, जिसमें चंदन का तेल भी शामिल है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर