अपना शहर चुनें

States

कानपुर: वैन मालिक अपहरण और हत्याकांड का खुलासा, 2 गिरफ्तार, जानिए कैसे अपराधियों तक पहुंची पुलिस

कानपुर में वैन मालिक अमित यादव के अपहरण और उसकी हत्या मामले का खुलासा करते हुए दो लोग गिरफ्तार किए हैं..
कानपुर में वैन मालिक अमित यादव के अपहरण और उसकी हत्या मामले का खुलासा करते हुए दो लोग गिरफ्तार किए हैं..

Kanpur News: कानपुर पुलिस ने वैन मालिक अमित यादव के अपहरण और हत्याकांड का खुलासा कर दिया है. पुलिस ने मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, वहीं 3 आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में पुलिस ने वैन मालिक के अपहरण के बाद हत्या (Kidnapping and Murder) की वारदात का खुलासा कर दिया है. पता चला है कि वैन लूटने के इरादे से वैन मालिक की हत्या की गई और हत्यारों ने उसके शव को नहर में फेंक दिया. पुलिस ने अपहरण और हत्या की वारदात की साजिश में शामिल 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. उनकी निशानदेही पर पुलिस ने लूटी गयी वैन और उसका वैन मालिक का मोबाइल फोन बरामद कर लिया है. हत्या और अपहरण की इस दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देने वाले 3 अपराधी अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं. इनकी तलाश में दबिश दी जा रही है.

पुलिस की जांच में पता चला कि अपहरण और हत्या की इस वारदात का सूत्रधार पंजाब का रहने वाला युवक है. दरअसल बिठूर थाना क्षेत्र के बगदौदी बांगर गांव का रहने वाला अमित यादव अपनी ही वैन चलाता था. 19 फरवरी की रात वह कल्याणपुर बिठूर रोड से दो लोगों को कानपुर देहात के रसूलाबाद ले जाने को निकला था. कार में सवार पंजाब से आए प्रद्युमन और उसके कानपुर देहात के रहने वाले दोस्त अमित ने रास्ते में कार रुकवाई. और अपने एक साथी गोलू को भी कार में बैठा लिया. रास्ते में ही कार मालिक अमित को शक हो गया कि उसकी कार में सवार लोग आपराधिक मानसिकता है. उनके पास असलहा भी है. इस बात की जानकारी कार चलते हुए उसने फोन कर अपनी पत्नी को दी.





इस तरह किया गया अमित का कत्ल
पत्नी को जानकारी देने के बात कार में सवार प्रद्युमन और अमित ने सुन ली, जिसके चलते कार की पिछली सीट में बैठे प्रद्युमन ने अपनी लोवर का नाड़ा निकाल कर अमित का गला कस दिया, जिससे उसकी मौत हो गई. गाडी की स्टेयरिंग बगल में बैठे प्रद्युमन के साथी ने सम्भाल ली. इसके बाद उन्होंने शव को कंचौसी के पास दिबियापुर नहर में फेंक दिया. उन्होंने कार को रसूलाबाद के पास सड़क पर खड़ा कर दिया. वहीं प्रद्युमन ने अपना मोबाइल फोन घटना की साजिश में शामिल प्रभात को बेच दिया.

इस तरह हुआ वारदाता का पर्दाफाश

प्रद्युमन ने प्रभात के गांव में रहने वाले धर्मेंद्र से पहले ही वैन को बेचने का सौदा कर लिया था. जिसके बाद उसने अपने दो साथियों के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया था. इधर वैन मालिक अमित यादव की पत्नी ने पति के अपहरण की आशंका जताते हुए कल्याणपुर पुलिस से शिकायत की. मामला दर्ज करने के साथ ही सक्रिय हुई पुलिस सर्विलांस की मदद से प्रभात तक पहुंच गई. प्रभात के पास से प्रद्युमन का फोन बरामद हुआ. जिसकी कॉल रिकॉर्डिंग से पूरी घटना का पर्दाफाश हो गया.

पुलिस ने वैन, मोबाइल और शव किया बरामद

पुलिस ने प्रभात औऱ धर्मेंद्र को गिरफ्तार कर पूछताछ की. उनसे मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने कानपुर देहात के रसूलाबाद से लूटी गई वैन और मृतक का मोबाइल बरामद कर लिया. वहीं नहर में सर्च ऑपरेशन चलाकर मृतक का शव भी बरामद कर लिया. पुलिस ने प्रभात और धर्मेंद्र को हत्या और अपहरण की साजिश में शामिल बताते हुए घटना का खुलासा कर दिया.

3 अन्य की गिरफ्तारी के लिए दबिश जारी

एसपी वेस्ट डॉ अनिल कुमार ने कहा कि तीनों फरार अपराधियों की तलाश के टीमों का गठन कर दिया गया है. उनकी तलाश में दबिशें दी जा रही हैं. जल्द ही प्रद्युमन और उसके दोनों साथियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज