लाइव टीवी

150 किलो प्रतिबंधित मांस के साथ पुलिस ने चार तस्करों को किया गिरफ्तार

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 13, 2019, 3:44 PM IST
150 किलो प्रतिबंधित मांस के साथ पुलिस ने चार तस्करों को किया गिरफ्तार
प्रतिबंधित मांस के साथ तस्कर गिरफ्तार

पुलिस ने मांस के साथ जूही परमपुरवा इलाके के रहने वाले महमूद रिजवान, दिलशान अंसारी और फैजान आलम सहित चार को गिरफ्तार कर लिया है.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में पुलिस ने प्रतिबंधित मांस (Restricted meat) की तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने चार लोगों को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. इनके पास से पुलिस को तकरीबन डेढ़ सौ किलो मांस बरामद हुआ. पुलिस गिरोह के फरार चल रहे दो शातिरों की तलाश कर रही है. पकड़े गए लोग काफी समय से तस्करी (Smuggling) के कारोबार में लिप्त हैं.

आपको बता दें कि पुलिस को शहर में काफी समय से प्रतिबंधित मांस की तस्करी की जानकारी मिल रही थी. सटीक सूचना पर एसपी दक्षिण की सर्विलांस और बर्रा पुलिस की टीम ने सचान चौराहे से गुजर रहे लोडर को रोका. पुलिस ने मांस के साथ जूही परमपुरवा इलाके के रहने वाले महमूद रिजवान, दिलशान अंसारी और फैजान आलम सहित चार को गिरफ्तार कर लिया, जबकि इनके दो साथी पप्पू कुरैशी और मकसूद आलम मौके से फरार हो गए. दोनों पर विभिन्न थानों में प्रतिबंधित जानवरों के कत्ल के एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं.

मुजफ्फरनगर में गौ तस्करों से मुठभेड़ हुई थी
बता दें कि पिछले साल मुजफ्फरनगर में पुलिस और गौ तस्करों के बीच मुठभेड़ हुई थी. मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से एक गौ तस्कर घायल हो गया है, जबकि एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. मामला मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर थाना क्षेत्र के अजमतगढ़ गांव का था. पुलिस को अजमतगढ़ स्थित जंगल में गोकशी की सूचना मिली थी. इसके बाद मंसूरपुर थाना पुलिस गौ तस्करों को पकड़ने के लिए मौके पर पहुंची थी. पुलिस को देखते ही गौ तस्करों ने फायरिंग शुरू कर दी थी.

रिपोर्ट- श्याम तिवारी

ये भी पढ़ें- 

एयर इंडिया ने एक ही परिवार के 3 यात्रियों को विमान से उतारा, बताई ये वजह
Loading...

पति कहता था- छोटे कपड़े पहनो और शराब पीओ, नहीं मानी पत्नी तो दे दिया तीन तलाक

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 3:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...