लाइव टीवी

कानपुर: पुलिस चौकी में मदद मांगने गए बुजुर्ग को पुलिसकर्मियों ने बेल्ट से पीट-पीटकर किया अधमरा
Kanpur News in Hindi

Amit Ganjoo | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 22, 2020, 8:46 AM IST
कानपुर: पुलिस चौकी में मदद मांगने गए बुजुर्ग को पुलिसकर्मियों ने बेल्ट से पीट-पीटकर किया अधमरा
पीड़ित बुजुर्ग

वृद्ध के पीठ और चेहरे पर काले निशान पड़ गए हैं. वृद्ध की हालत बिगड़ता देख पुलिस (Police) ने उसे छोड़ दिया.

  • Share this:
कानपुर. कानपुर (Kanpur) के पनकी थाना स्थित रतनपुर चौकी (Ratanpur post) में पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है. रतनपुर चौकी में अपने बेटों से परेशान होकर शिकायत करने पहुंचे वृद्ध को मदद करने के बजाए पुलिसकर्मियों (Police) ने उल्टा उनकी ही पिटाई कर दी. वृद्ध अरुण कुमार द्विवेदी का आरोप है कि बेटों के खिलाफ शिकायत करने के बाद भी चौकी पर मौजूद दो सिपाहियों ने उनके प्रार्थना पत्र को नहीं लिया. उल्टा उनके ऊपर ही भड़क गए और पहले थप्पड़ मारा फिर फिर चमड़े के पट्टे से पीट-पीटकर बेदम कर दिया.

वृद्ध के पीठ और चेहरे पर काले निशान पड़ गए हैं. वृद्ध की हालत बिगड़ता देख पुलिस ने उसे छोड़ दिया. इसकी शिकायत पहले उसने थानाध्यक्ष से की, जब वहां से सुनवाई नहीं हुई तो क्षेत्राधिकारी स्वरूप नगर अजय कुमार को प्रार्थना पत्र दिया. इसके बाद क्षेत्राधिकारी ने पनकी थाना अध्यक्ष से इसकी रिपोर्ट मांगी है. इस घटना के बाद अरुण कुमार द्विवेदी इतना सहम गए हैं कि न तो वह अपने घर पर रह रहे हैं और न ही अपने रिश्तेदारों के यहां.

अरुण कुमार द्विवेदी का अपने बेटों से संपत्ति को लेकर विवाद है
दरअसल, अरुण कुमार द्विवेदी का अपने बेटों से संपत्ति को लेकर विवाद है. अब अरुण कुमार ड्यूटी खत्म होने के बाद डर के मारे अपने घर में न रह कर आर नगर स्थित एक अपार्टमेंट में ही सो जाते हैं. इस पूरे मामले पर क्षेत्राधिकारी अजय कुमार ने बताया किए बाप और बेटे के संपत्ति का विवाद है जो पिछले कई महीनों से है. यहां तक कि कई बार इससे पूर्व में भी इनका समझौता कराया जा चुका है. मगर जिस प्रकार से अरुण कुमार का आरोप है कि रतनपुर चौकी में सिपाहियों ने उसके साथ मारपीट की यह गंभीर मामला है. इसकी जांच थानाध्यक्ष को दी गई है. रिपोर्ट आने के बाद सिपाहियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.



कार्यालय बुलाकर उनके बयान ले लिए गए हैं


वहीं, रतनपुर चौकी के दोनों सिपाहियों को कार्यालय बुलाकर उनके बयान ले लिए गए हैं. उनसे यह भी पूछा जाएगा कि आखिर ऐसी क्या नौबत आई पुलिस को वृद्ध की पिटाई करनी पड़ गई. वहीं, अरुण कुमार द्विवेदी ने बताया कि पुलिस के अधिकारियों से पुलिसकर्मियों की शिकायत करना भारी पड़ गया है. अब वे उस पर प्रार्थना पत्र वापस लेने का दबाव डाल रहे हैं. ऐसे में वे डरे और सहमे हुए हैं. इस डर के कारण वो अपना इलाज कराने भी डॉक्टरों के नहीं जा पा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- 

सोनिया गांधी के साथ विपक्ष के नेताओं की VC से पहले बिहार में मचा बवाल

बंद रहेंगे आईजीआई एयरपोर्ट के ये टर्मिनल, सिर्फ T-3 से होगा विमानों को आवागमन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 8:32 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading