होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Lockdown के बाद बेरोजगार हुए युवा दंपति के Suicide मामले में प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर उठाए सवाल

Lockdown के बाद बेरोजगार हुए युवा दंपति के Suicide मामले में प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर उठाए सवाल

प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर खड़े किए सवाल. (फाइल फोटो)

प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर खड़े किए सवाल. (फाइल फोटो)

प्रियंका गांधी ने ट्वीट में लिखा कि 'एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री लाखों नौकरियां देने का दम भर रहे है तो दूसरी तरफ कानपुर ...अधिक पढ़ें

    कानपुर. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Pandemic Coronavirus) के संक्रमण के मद्देनजर हुए देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) के बाद रोजगार छिनने और भुखमरी के चलते आत्महत्या (Suicide) के कई मामले सामने आने लगे हैं इसी क्रम में गत शनिवार कानपुर जनपद में एक दंपति ने आत्महत्या कर ली थी. इस मुद्दे पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.



    "प्रियंका ने ट्वीट में लिखा कि एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री लाखों नौकरियां देने का दम भर रहे है तो दूसरी तरफ कानपुर के युवा दंपति ने लॉकडाउन में गई नौकरी के कारण भूख के कारण मौत को गले लगा लिया। सरकार को संकटकाल मे प्रचार से ज्यादा लोगो की समस्याओं के समाधान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।"

    ये भी पढ़ें -कानपुर शेल्टर होम मामलाः प्रोबेशन अधिकारी ने मानी चूक, DM ने कहा- शेल्टर होम में प्रेग्नेंट होने की बात निराधार! जानें पूरी कहानी

    लॉकडाउन के बादछूट गई थी नौकरी
    बता दें कि बर्रा इलाके में रहने वाले सिक्योरिटी गार्ड राजेन्द्र वर्मा पिछले चार साल से न्यू आजाद नगर के राजीव नगर में अरुण तिवारी के मकान में किराये पर रह रहे हैं. राजेन्द्र के मुताबिक 35 वर्षीय बेटा प्रिंस तीन वर्ष पहले लखनऊ में एक कंपनी में काम करता था, जहां देवरिया रुद्रपुर निवासी जवाहरलाल की बेटी चंद्रिका भी काम करती थी. दो वर्ष पहले दोनों ने वहीं कोर्ट में प्रेम विवाह कर लिया था. विवाह के बाद प्रिंस पत्नी के साथ राजीव नगर में लगा था. मृत दंपति का एक साल का बेटा भी है.

    ये भी पढ़ें-आगरा: आर्थिक तंगी से परेशान शख्स ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा Lockdown में सारे पैसे खर्च

    मृतक के पिता ने बताया कि लॉकडाउन के बाद बेटे की नौकरी छूट गई थी. जिसके बाद से खर्चों को लेकर दोनों के बीच आए दिन विवाद होता रहता था. शनिवार दोपहर दोनों में फिर झगड़ा हुआ, जिसके बाद प्रिंस ने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर पंखे से लटककर फांसी लगा ली. पति को फंदे पर लटका देख चंद्रिका ने मौसी कमला के बेटे सतेंद्र व अनिल को फोन करके घटना की जानकारी देते हुए खुद फांसी लगाने की बात कही. इसके बाद चंद्रिका ने बेटे शौर्य को कमरे के बाहर फर्श पर बैठाया और दूसरे कमरे में पंखे के कुंडे से फांसी लगा ली. सूचना पर पहुंचे पिता ने रिश्तेदारों की मदद से दरवाजे का कुंडा तोड़ा. दोनों को फंदे से उतारकर 108 एंबुलेंस की मदद से अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. थाना प्रभारी पुष्पराज सिंह ने बताया कि पारिवारिक कलह की बात सामने आई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी. वहीं आज सोमवार को उत्तर प्रदेश के आगरा जनपद में भी लॉकडाउन के बाद आर्थिक तंगी के चलते एक शख्स ने फांसी लगा कर जान दे दी.

    आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

    दिल्ली-एनसीआर
    दिल्ली-एनसीआर

    Tags: Chief Minister Yogi Adityanath, Lockdown, Priyanka gandhi, Suicide, Yogi government

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें