पुलवामा में शहीद हुआ कानपुर का लाल रोहित यादव, पत्नी से बोला जल्द आऊंगा..

आपको बता दें कि रोहित हंसमुख और मिलनसार होने के चलते सबका चहेता था. मार्च में एक महीने की छुट्टी पर आया था और दोस्तों के साथ काफी वक्त बिताया.

News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 3:29 PM IST
पुलवामा में शहीद हुआ कानपुर का लाल रोहित यादव, पत्नी से बोला जल्द आऊंगा..
शहीद रोहित यादव
News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 3:29 PM IST
कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों से सेना के जवानों की अचानक मुठभेड़ हो गई. आतंकियों से इस मुठभेड़ में कानपुर देहात के डेरापुर निवासी 17 राजपूत रेजीमेंट के जवान रोहित यादव शहीद हो गए. रोहित के शहीद होने की सूचना मिलते ही पूरा गांव गम में डूब गया है. रोहित की पत्नी वैष्णवी की तबीयत भी खराब हो गई. परिवार में कोहराम मचा है. बता दें कि 25 वर्षीय रोहित यादव 17वीं राजपूताना राइफल्स की 44वें आतंकवाद निरोधक दस्ते में शामिल थे.

रोहित के पिता कस्बे के अम्बेडकर नगर डेरापुर में रहते है निजी मकान में सरिया सीमेंट की दुकान चलाते हैं. भाई सुमित ने बताया कि रोहित नवंबर 2011 में सेना में भर्ती हुआ था. उसकी शादी 25 अप्रैल 2016 को वैष्णवी के साथ हुई थी. बीती 17 अप्रैल को ही छुट्टी से वापस गया था. कह रहा था कि जल्दी आऊंगा, लेकिन किसे पता था, ऐसे आएगा.



पुलवामा में शहीद हुआ रोहित


आपको बता दें कि रोहित हंसमुख और मिलनसार होने के चलते सबका चहेता था. मार्च में एक महीने की छुट्टी पर आया था और दोस्तों के साथ काफी वक्त बिताया. शहीद रोहित के दौस्त अमन मिश्र कहते हैं, इस बार बड़ी गर्मजोशी से मिले थे. बहुत मीठा बोलते थे. विश्वास ही नहीं हो रहा है कि इतनी जल्दी उनसे साथ छूट जाएगा.

ये भी पढ़ें:

PHOTOS: गोरखपुर में अमित शाह के 'रोड शो' में बीजेपी ने दिखाया दम

जानिए क्यों इस 'योगी' को अखिलेश रखते हैं अपने चुनाव प्रचार में साथगोरखपुर में फिर BJP की जीत चाहते हैं ये मुस्लिम शख्स, योगी से है खास कनेक्शन

लोकसभा चुनाव 2019: देवरिया में बंटे पर्चे- 'हेलमेट की करो तैयारी, आ गए हैं जूताधारी’

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार