Home /News /uttar-pradesh /

भीम शोभा यात्रा बवाल पर सियासत तेज, अखिलेश का बीजेपी पर हमला तो कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने की पीड़ितों से मुलाकात

भीम शोभा यात्रा बवाल पर सियासत तेज, अखिलेश का बीजेपी पर हमला तो कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने की पीड़ितों से मुलाकात

कानपुर में पीड़ितो्ं से मुलाकात के दौरान कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल

कानपुर में पीड़ितो्ं से मुलाकात के दौरान कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल

कांग्रेस (Congress) का प्रतिनिधिमंडल शनिवार को कानपुर देहात (Kanpur Dehat) पहुंचा. इस दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता जिला अस्पताल में भर्ती पीड़ितों से मिले और चिकित्सकीय इंतजामों को जाना. प्रतिनिधिमंडल में यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू , सांसद पीएल पुनिया, नेता विधान मंडल आराधना मिश्रा मोना उपस्थित रहे.

अधिक पढ़ें ...
    कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात (Kanpur Dehat) में भीम शोभा यात्रा (Bhim Shobha Yatra) के दौरान दो गुटों में झड़प हो गई. जाति विशेष के लोगों के बीच हुई इस झड़प में जमकर पथराव और मारपीट हुई, जिसमें कि 6 लोग घायल हो गये. वहीं एक मकान में आग भी लगा दी गई. सूचना पर फोर्स लेकर पहुंचे एसपी ने लोगों को समझाकर हालात पर नियंत्रण किया और घायलों को अस्पताल भिजवाया. उधर घटना के बाद सियासत तेज हो गई है. मामले में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला किया और पुलिस पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है. वहीं कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल शनिवार को कानपुर देहात पहुंचा. इस दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता जिला अस्पताल में भर्ती पीड़ितों से मिले और चिकित्सकीय इंतजामों को जाना. प्रतिनिधिमंडल में यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू , सांसद पीएल पुनिया, नेता विधान मंडल आराधना मिश्रा मोना और राकेश सचान, अंशू अवस्थी उपस्थित रहे.

    अखिलेश यादव ने बीजेपी पर किया हमला
    बता दें इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने घटना को लेकर ट्वीट किया और बीजेपी पर हमला किया. उन्होंने लिखा, "भाजपाई कार्यकर्ताओं के गुंडाराज की एक और शर्मनाक घटना में कानपुर देहात के मांगटा गांव में दलितों को जमकर पीटा गया जिसमें 23 दलित ज़ख़्मी हुए हैं. प्रदेश में पुलिस को अपनी रक्षात्मक भूमिका के विपरीत कार्य करने को बाध्य किया जा रहा है. हम इस लड़ाई में हर क़दम दलितों के साथ हैं."

    गांव में तनावपूर्ण हालात
    दरअसल, मंगटा गांव किनारे गौतम बुद्ध पार्क में 8 फरवरी को कथा पूजन कराया गया था. गुरुवार को भीम शोभा यात्रा निकाली जानी थी. तय समय पर सुबह लोग शोभा यात्रा निकाल रहे थे. इस बीच अनुसूचित जाति व क्षत्रिय बिरादरी के लोगों में विवाद हो शुरू हो गया. दोनों ओर से पथराव व मारपीट होने से अफरातफरी मच गई और 6 से अधिक लोग जख्मी हो गए. गांव में तनावपूर्ण हालात बन गए. गुस्साए लोगों ने एक मकान में भी आग लगा दी.

    Akhilesh on kanpur
    कानपुर की घटना को लेकर अखिलेश यादव का ट्वीट


    घटना की सूचना पाकर प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी सक्रिय हो गए. एसपी, एएसपी, एडीएम प्रशासन, एसडीएम सदर गांव पहुंच गए और लोगों से बात की. अफसरों ने तुरंत घायलों को इलाज के लिये अकबरपुर के अस्पताल में भर्ती करवाया. एसपी अनुराग वत्स ने बताया कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है. माहौल बिगाड़ने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी.

    मामले में पुलिस का ये है कहना...
    पुलिस की तरफ से बताया कि ग्राम मंगटा में हुई घटना में दो पक्षों के बीच मारपीट हुई, जिसमें एक पक्ष के कुछ लोगों को चोटें आईं. इस प्रकरण में मुकदमा अपराध संख्या 78/2020 धारा 147, 148, 149, 452, 336, 354 ख, 323, 324, 325, 504, 506 भादवि और एससी एसटी एक्ट का मामला दर्ज किया गया. ये घटना 13 फरवरी 2020 को हुई. इस प्रकरण में पुलिस अभी तक कुल 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. पुलिस का कहना है कि ये घटना एक मामूली विवाद के चलते हुई. भीमकथा 8 फरवरी को ही संपन्न हो गई थी. गांव में पूरी तरह शांति व्याप्त है.

    ये भी पढ़ें:

    पड़ोसी ने चाकू की नोक पर नाबालिग से किया रेप, ब्लैकमेल से परेशान होकर दी जान

    मेरठ की MBA छात्रा का नहीं हुआ था अपहरण और गैंगरेप, बाइक से गिरकर हुई घायल: IG

    Tags: Kanpur news, Up news in hindi, Uttarpradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर