विकास दुबे के खजांची जय बाजपेई पर कसा शिकंजा, पासपोर्ट व शस्त्र लाइसेंस रद्द करने के आदेश
Kanpur News in Hindi

विकास दुबे के खजांची जय बाजपेई पर कसा शिकंजा, पासपोर्ट व शस्त्र लाइसेंस रद्द करने के आदेश
जय बाजपेई और विकास दुबे के बीच लेनदेन के मिले सबूत (जय बाजपेई सबसे दाएं)

एनकाउंटर में मारे गए दुर्दांत अपराधी विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके करीबी जय बाजपेई (Jai Bajpayi) को लेकर कई खुलासे हो रहे हैं. पुलिस की जांच में पता चला है कि विकास दुबे और जय बाजपेई के बीच पिछले एक साल में 75 करोड़ रुपए की लेनदेन हुई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 19, 2020, 10:47 AM IST
  • Share this:
कानपुर. कानपुर (Kanpur) के चौबेपुर में आठ पुलिसकर्मियों के कत्यारे विकास दुबे (Vikas Dubey) एंड गैंग के खात्मे के बाद अब उसके काले साम्राज्य को ध्वस्त करने  तैयारी है. इसी क्रम में  विकास दुबे के बिज़नस पार्टनर व खजांची कहे जाने वाले जय बाजपेई (Jai Bajpayi) पर शिकंजा कसने लगा है. एसएसपी कानपुर (SSP Kanpur) दिनेश कुमार पी ने जय बाजपेई का पासपोर्ट और शस्त्र लाइसेंस रद्द करने के निर्देश दिए हैं. एसएसपी ने थानाध्यक्ष नजीराबाद और बजरिया से इस बाबत रिपोर्ट तलब की है.

एक साल में विकास दुबे और जय के बीक 75 करोड़ का लेनदेन

गौरतलब है कि एनकाउंटर में मारे गए दुर्दांत अपराधी विकास दुबे और उसके करीबी जय बाजपेई को लेकर कई खुलासे हो रहे हैं. पुलिस की जांच में पता चला है कि विकास दुबे और जय बाजपेई के बीच पिछले एक साल में 75 करोड़ रुपए की लेनदेन हुई. ये लेनदेन करीब 6 बैंक खातों से की गई. यही नहीं 5 करोड़ रुपए आईपीएल के सट्टे में भी लगाए जाने की बात सामने आई है.
पुलिस ने ईडी को भेजे दस्तावेज
मामले में यूपी पुलिस ने सभी दस्तावेज ईडी को भेज दिए हैं. पुलिस जांच में ये भी खुलासा हुआ है कि विकास और जय के बीच सिर्फ बैंक खातों से ही नहीं कैश में भी करोड़ों की लेनदेन हुई. ये भी पता चला है कि इन्होंने आईपीएल के सट्टे में भी 5 करोड़ रुपए लगाए थे. पुलिस पुलिस और एसटीएफ की जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपी जय बाजपेई बीसी चलाता था. वहीं विकास की काफी रकम सट्टे में लगाता था. जय बाजपेई ऑनलाइन सट्टा लगाता था. इस सट्टे में विदेशी लोगों की संलिप्तता पाई गई है.



इनकम टैक्स विभाग भी जुटा जांच में

बता दें विकास दुबे के फंड मैनेजर जय बाजपेई (Jai Bajpayi) पर जांच एजेंसियों ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. आयकर विभाग की बेनामी विंग उसकी 9 संपत्तियों की जांच करेगी. जय बाजपेई के खिलाफ ईडी (ED) भी अपनी जांच शुरू कर चुका है. बेनामी विंग जय के ब्रह्मनगर में 6 मकान, आर्यनगर में 2 मकान और पनकी में 1 मकान की खरीद-फरोख्त का ब्यौरा जांचेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज