Home /News /uttar-pradesh /

गंगा में हुआ चमत्कार! मिला 'राम सेतु' का तैरता हुआ पत्थर

गंगा में हुआ चमत्कार! मिला 'राम सेतु' का तैरता हुआ पत्थर

त्रेता युग में लंका पर चढ़ाई के दौरान नल और नील की ओर से भगवान राम का नाम पत्थरों पर लिखने के बाद वे पत्थर समुद्र में तैरने लगे थे. ऐसी बातें पुराणों में तो पढ़ने को मिलती हैं, लेकिन जब हकीकत में ऐसा हो तो उसे क्या कहेंगे?

    त्रेता युग में लंका पर चढ़ाई के दौरान नल और नील की ओर से भगवान राम का नाम पत्थरों पर लिखने के बाद वे पत्थर समुद्र में तैरने लगे थे. ऐसी बातें पुराणों में तो पढ़ने को मिलती हैं, लेकिन जब हकीकत में ऐसा हो तो उसे क्या कहेंगे? चमत्कार या कुछ और?

    ऐसा ही कुछ हुआ यूपी के कानपुर के महाराजपुर थाना क्षेत्र के ड्योढ़ी घाट हनुमान मंदिर के सामने गंगा नदी में. यहां गंगा की धारा में तैरते पत्थर को देखकर लोगों की भीड़ लग गई.

    सूचना मिलते ही मंदिर के महंत श्री चैतन्य प्रकाश ब्रम्हचारी ने पुजारी अमित मिश्र को भेजकर पत्थर को परिसर स्थित मंदिर में रखवा दिया.

    मंगलवार सुबह 9 बजे नाविक रामप्रसाद निषाद भक्तों को नाव से मंदिर ला रहे थे. गंगा की धारा में पत्थर बहता दिखाई दिया. कौतूहल बढ़ता देख नाव में पत्थर को रखकर मंदिर परिसर ले आये, जहां स्वामी जी ने परिसर स्थित रामजानकी मंदिर में शिवलिंग के बगल में इस पत्थर को रखवा दिया.

    इस बात की सूचना जंगल की आग की तरह फैली और मंदिर में भक्तों का तांता लगा गया. दैवीय चमत्कार मान लोग अब इस पत्थर का दर्शन और पूजन कर रहे हैं. इस बीच सूचना पर कुलगांव चौकी इंचार्ज अशोक मिश्रा भी पहुंचे.

    फिलहाल, एक टीम बुलाकर अब इस पत्थर की जांच करवाई जा रही है कि यह तैर कैसे रहा था.

    आपके शहर से (कानपुर)

    कानपुर
    कानपुर

    Tags: Kanpur news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर