अपना शहर चुनें

States

TMC नेता केडी सिंह पर कानपुर के निवेशकों से 3 हजार करोड़ रुपये ठगने का आरोप

मामले में जांच जारी है. (सांकेतिक तस्वीर)
मामले में जांच जारी है. (सांकेतिक तस्वीर)

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के केडी सिंह पर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर के कई निवेशकों के करीब 3 हजार करोड़ रुपये ठगने का आरोप है.

  • Share this:
कानपुर. पूर्व राज्यसभा सदस्य और तृणमूल कांग्रेस के नेता (TMC Leader) केडी सिंह (KD Singh) को हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा गिरफ्तार किया गया है. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के केडी सिंह पर उत्तर प्रदेश के कानपुर के कई निवेशकों के करीब 3 हजार करोड़ रुपये ठगने का आरोप है. अनुमान लगाया जा रहा है कि केडी सिंह की कंपनियों में कानपुर के करीब 5 हजार लोगों ने निवेश किया था. इस प्रकरण में एक मुकदमा कानपुर के थाना कोतवाली में दर्ज हुआ था, जिसकी जांच पुलिस की आर्थिक अनुसंधान शाखा (ईओडब्ल्यू) कर रही है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चकेरी निवासी पवन मिश्रा ने वर्ष 2019 में कोतवाली थाने में धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का मुकदमा दर्ज कराया था. इस रिपोर्ट में केडी सिंह और उनकी कंपनियों के डायरेक्टर सतेंद्र सिंह, सुचेता खेमका, जयप्रकाश, बृजमोहन महाजन, छत्रसाल सिंह, नरेंद्र सिंह राणावत, नंदकिशोर को आरोपित बनाया गया था. इसके बाद कुछ दिनों तक स्थानीय पुलिस ने मामले की जांच की. फिर बाद में जांच ईओडब्ल्यू को सौंप दिया गया.

इन फर्मों में किया निवेश
शिकायत में आरोप है कि पूर्व सांसद केडी सिंह की कंपनियों अलकेमिस्ट इंफ्रा लिमिटेड, अलकेमिस्ट टाउनशिप में निवेश करने के लिए वर्ष 2010 में निवेशकों को प्लाट व बसें देने या मकान देने या 18 फीसद ब्याज के साथ पैसा लौटाने का झांसा दिया गया था. पवन की तहरीर पर पहले कोतवाली पुलिस ने जांच की, बाद में जांच को ईओडब्ल्यू स्थानांतरित कर दिया गया. ईओडब्ल्यू अधिकारियों के मुताबिक अब तक 150 लोगों के बयान दर्ज कराए जा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज