होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

UP Board Result 2020: सावधान! सक्रिय हो चुके हैं दलाल, नंबर बढ़ाने के लिए मांगे जा रहे पैसे

UP Board Result 2020: सावधान! सक्रिय हो चुके हैं दलाल, नंबर बढ़ाने के लिए मांगे जा रहे पैसे

डीआईजी अनंत देव तिवारी ने कही कार्रवाई की बात

डीआईजी अनंत देव तिवारी ने कही कार्रवाई की बात

डीआईजी अनंत देव तिवारी ने बताया कि अगर इस तरह का कभी भी कोई मैसेज आए तो तत्काल संबंधित थानाध्यक्ष को अवगत कराएं ताकि ऐसे जालसाजों के खिलाफ कार्रवाई हो सके.

कानपुर. यूपी बोर्ड रिजल्ट (UP Board Result 2020) का इंतजार हर उस छात्र-छात्रा को है जिसने परीक्षाएं दी हैं. मगर रिजल्ट आने से पहले ही दलाल सक्रिय हो चले हैं, जो अभिभावकों को और छात्राओं को मोबाइल पर मैसेज भेजकर नंबर बढ़वाने के लिए पैसे डिपाजिट करने की मांग कर रहे हैं. ऐसे कई मामले कानपुर (Kanpur) में देखने और सुनने को मिले. हालांकि अभिभावकों ने इसकी शिकायत स्कूल व कॉलेज के प्राचार्य से की है और यहां तक कि यह मामला डीआईओएस तक भी पहुंचा है.

मांगे 55 हजार रुपए

दरअसल उत्तर प्रदेश यूपी बोर्ड का रिजल्ट जून के आखिरी सफ्ताह तक आने की उम्मीद है. जिसको लेकर जा एक और छात्र छात्राएं की धड़कनें बढ़ रही हैं. कुछ को अपने मार्क्स को लेकर चिंता है तो वहीं कुछ की धड़कने इस वजह से बढ़ी हैं कि कहीं वह फेल न हो जाएं. इसका फायदा उठाते हुए शहर में कई दलाल सक्रिय हो चले हैं. ऐसा ही मामला देखने को मिला जहां सूरज कुमार नाम के एक व्यक्ति ने चाचा नेहरू इंटर कॉलेज के 12वीं के छात्र राज तिवारी के मोबाइल पर यह मैसेज भेजा कि मैं सूरज कुमार हूं और मेरा सैलरी अकाउंट नंबर मैं तुम्हें जल्द दे दूंगा. मेरे अकाउंट में 55000 रुपए जमा कर दो. 90 फ़ीसदी अंक दिला दूंगा. यदि 90 फ़ीसदी अंक नहीं दिला पाया तो तुम्हारा पैसा रिफंड कर दूंगा. यह मैसेज पढ़ने के बाद छात्र राज तिवारी के होश उड़ गए. उसने अपने पिता कमलेश तिवारी को इसकी जानकारी दी. जिसके बाद राज तिवारी के पिता ने प्राचार्य को फोन करके इस मैसेज के बारे में बताया तो प्राचार्य ने उन्हें विद्यालय बुलवाया.

अभिभावकों को सावधान रहने की सलाह

चाचा नेहरू इंटर कॉलेज के प्राचार्य डॉ अनिवेश सिंह ने उन्हें समझाया कि ऐसा काम बिल्कुल न करें यह किसी शरारती तत्व का काम है. वही डीआईओएस सतीश तिवारी ने कहा कि सभी अभिभावकों को ऐसे मामलों से पूरी तरीके से जागरूक रहना चाहिए. वहीं इस पूरे मामले पर पुलिस उपमहानिरीक्षक अनंत देव तिवारी ने बताया कुछ दिन पूर्व जिन 10 अभिभावकों को नंबर बढ़ाने को लेकर मैसेज आए थे उनके नंबर की डिटेल निकाली जा रही है. जल्द ही पुलिस उन तक पहुंच जाएगी जो छात्रों और अभिभावकों के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. डीआईजी अनंत देव तिवारी ने बताया कि अगर इस तरह का कभी भी कोई मैसेज आए तो तत्काल संबंधित थानाध्यक्ष को अवगत कराएं ताकि ऐसे जालसाजों के खिलाफ कार्रवाई हो सके.

ये भी पढ़ें:

योगी सरकार देगी 1.5 लाख रियल एस्टेट और 10 हजार ड्राइवर सहित इन कामगारों को रोजगार

लॉकडाउन के बीच झांसी में पाकिस्तानी टिड्डी दल से जंग, डीएम ने संभाला मोर्चा, 40 लाख टिड्डियां ढेर

आपके शहर से (कानपुर)

कानपुर
कानपुर

Tags: Kanpur city news, Kanpur news, UP Board Results, UP police

अगली ख़बर