Home /News /uttar-pradesh /

Kanpur Manish Gupta Death Case: सपा कार्यकर्ताओं की पुलिस से धक्का-मुक्की, बोले CM से पहले परिवार से मिलेंगे अखिलेश

Kanpur Manish Gupta Death Case: सपा कार्यकर्ताओं की पुलिस से धक्का-मुक्की, बोले CM से पहले परिवार से मिलेंगे अखिलेश

अखिलेश यादव ने कारोबारी मनीष गुप्ता के परिवार से की मुलाक़ात

अखिलेश यादव ने कारोबारी मनीष गुप्ता के परिवार से की मुलाक़ात

Manish Gupta Death Case: सपा कार्यकर्ताओं का कहना था कि मुख्यमंत्री से मुलाक़ात के पहले अखिलेश यादव की मुलाक़ात होगी. इस दौरान मिनाक्षी गुप्ता सपा कार्यकर्ताओं से शांति की अपील भी करती रहीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

कानपुर. गोरखपुर पुलिस (Gorakhpur Police) की कथित पिटाई से व्यापारी मनीष गुप्ता की मौत (Manish Gupta Death Case) के मामले में अब सियासत भी शुरू हो गई.  समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के पहुंचने से पहले ही सपा कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मनीष गुप्ता के घर पहुंच गए. इस बीच उन्होंने मृतक मनीष गुप्ता की पत्नी मिनाक्षी गुप्ता की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाक़ात का विरोध करते हुए पुलिस से धक्का-मुक्की की. सपा कार्यकर्ताओं का कहना था कि मुख्यमंत्री से मुलाक़ात के पहले अखिलेश यादव की मुलाक़ात होगी. इस दौरान मिनाक्षी गुप्ता सपा कार्यकर्ताओं से शांति की अपील भी करती रहीं.

इस बीच सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मनीष गुप्ता के घर पहुंचे और पत्नी मिनाक्षी और परिवार के अन्य सदस्यों से मुलाक़ात कर अपनी संवेदना व्यक्त की. साथ ही दुख की इस घड़ी में परिवार के साथ खड़े रहने का आश्वासन भी दिया.

पत्नी बोलीं- मांग पूरी न होने तक नहीं खाएंगी खाना
उधर पत्नी मिनाक्षी का कहना है कि जो हमारी मांग है कि सीबीआई की जांच हो. केस कानपुर ट्रांसफर हो. मेरी पारिवारिक जरूरत पूरी हो. हमारा करने वाला जा चुका है. हमनेकुछ पॉइंट बनाए हैं जिस पर बात मुख्यमंत्री से बात करेंगे. जब मुझे पति की मौत की सूचना मिली तो मुझे पता हो गया था पुलिस के द्वारा हत्या की गई है. मिनाक्षी ने कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होती तब तक वह अन्न का एक दाना भी ग्रहण नहीं करेंगी.

मंत्री बृजेश पाठक ने कही ये बात
कानून मंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि सरकार ने मामले को गंभीरता से लिया है. इस पर सियासत नहीं होनी चाहिए. किसी को भी कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है. चाहे वह पुलिसवाले हों या फिर उच्च पदों पर बैठे अधिकारी. इस मामले को फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे. सरकार पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है. उनकी जो भी मांगें होंगी उसे सुना जाएगा. इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है. 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है. दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

अखिलेश यादव ने की मांग, पत्नी को मिले दो करोड़ की आर्थिक मदद 
पीड़ित परिवार से मुलाक़ात के बाद अखिलेश यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मृतक की पत्नी को सरकार दो करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दे. उन्होंने कहा कि पुलिस जब बूथ लुटेगी तो न्याय क्या दिलाएगी. उन्होंने डीएम और एसएसपी पर भी निशाना साधा और कहा कि उन्हें सस्पेंड किया जाना चाहिए. गोरखपुर होटल के के सबूत मिटाए गए. घर का कमाने वाला चला गया. यह चिंता का विषय है. उन्होंने हाईकोर्ट के सीटिंग जज से मामले की जांच करवाने की मांग भी की. उन्होंने कहा कि तब दोषियों को सजा नहीं मिलेगी जब तक निष्पक्ष जांच नहीं होगी। अखिलेश यादव ने परिवार को 20 लाख रुपये का चेक भी सौंपा और कहा कि पार्टी आगे भी उनकी मदद करती रहेगी।

Tags: Akhilesh yadav, Kanpur news, Kanpur Police, Up news in hindi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर