UP: 8 विदेशी तबलीगी जमातियों की जांच पूरी, कोर्ट में पेश की जाएगी चार्जशीट
Kanpur News in Hindi

UP: 8 विदेशी तबलीगी जमातियों की जांच पूरी, कोर्ट में पेश की जाएगी चार्जशीट
साकेत कोर्ट में चार्जशीट फाइल की जाएगी. प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली के तबलीगी जमात (Tabligi Jamaat) में शामिल होकर कानपुर के एक मस्जिद में रूके 8 विदेशी जमातियों के खिलाफ पुलिस की जांच पूरी हो गई है. पुलिस ने 8 विदेशियों समेत 15 लोगों के खिलाफ चार्जशीट लगाई है.

  • Share this:
कानपुर. दिल्ली के तबलीगी जमात (Tabligi Jamaat) में शामिल होकर कानपुर के एक मस्जिद में रूके 8 विदेशी जमातियों के खिलाफ पुलिस की जांच पूरी हो गई है. इनके खिलाफ लॉक डाउन उल्लंघन (Violation Of Lockdown) करने और अन्य आरोपों में एफआईआर (Fir) दर्ज की गई थी. पुलिस ने 8 विदेशियों समेत 15 लोगों के खिलाफ चार्जशीट लगाई है. विवेचक ने चार्जशीट क्षेत्राधिकारी पास भेजी है. इसके बाद अदालत में यह चार्जशीट पेश की जाएगी.

इन देशों के इतने जमातियों पर दर्ज है मामला

कानपुर के बाबू पुरवा थाने में बीते 1 अप्रैल को 8 विदेशी जमातियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था. यह आरोप है कि ईरान के तीन, अफगानिस्तान के चार और ब्रिटेन के एक जमाती 14 से 18 मार्च के दौरान थाना क्षेत्र के मस्जिद में ठहरे थे. उन्होंने थाना बाबू पुरवा एलआईयू व स्वास्थ्य विभाग को अपने रुके होने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी थी और ना ही यह बताया था कि निजामुद्दीन जमात में शामिल होकर लौटे हैं.



इन्हें अस्थाई जेल में बंद रखा गया है



रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने इन विदेशी नागरिकों को कोरोना टेस्ट करवाया, जिसमें 2 जमाती संक्रमित पाए गए थे. स्वास्थ्य लाभ के बाद सभी आठों विदेशी इस समय चौबेपुर स्थित अस्थाई जेल में बंद है. अपर पुलिस महानिदेशक जय नारायण सिंह ने बताया दर्ज एफआईआर में बाबू पुरवा पुलिस ने चार्जशीट लगा दी है. जांच के मुताबिक सभी 15 नामजद आरोपियों के खिलाफ लॉक डाउन का उल्लंघन और महामारी फैलाने का आरोप लगाया गया है.

कानून तोड़ने वालों को बख्शा नहीं जाएगा: पुलिस महानिदेशक

पुलिस ने विदेशी अधिनियम के उल्लंघन का मामला भी दर्ज किया था. अपर पुलिस महानिदेशक जय नारायण सिंह ने बताया कि जांच में सामने आया है कि 7 विदेशी जमाती टूरिस्ट वीजा एक और एक मेडिकल वीजा पर भारत आया था जबकि सभी यहां पर धर्म प्रचार के कार्य में संलग्न थे. एडीजी ने बताया कि जिन 8 लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ था, उनमें से ईरान के 3 अफगानिस्तान के 4 और ब्रिटेन का एक नागरिक शामिल था. जल्द ही इन्हें अदालत में पेश किया जाएगा. कानून तोड़ने वाले और शहर का माहौल खराब करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे, जिन्होंने भी कानून का उल्लंघन किया बख्शे नहीं जाएंगे.

ये भी पढ़ें: Agra-Lucknow Expressway पर हादसे में 2 अप्रवासी मजदूरों की मौत, 20 घायल

Noida में राशन की लाइन में खड़ी महिलाओं पर पुलिस ने बरसाई लाठियां, देखें Video
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading