• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Kanpur News: सीनियर IAS अधिकारी के घर लगी 'कट्टरता की पाठशाला', VIDEO वायरल होने के बाद जांच के आदेश

Kanpur News: सीनियर IAS अधिकारी के घर लगी 'कट्टरता की पाठशाला', VIDEO वायरल होने के बाद जांच के आदेश

वरिष्ठ आईएएस इफ्तिखारुद्दीन का वीडियो हुआ वायरल

वरिष्ठ आईएएस इफ्तिखारुद्दीन का वीडियो हुआ वायरल

Kanpur Viral Video: सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक यह वायरल वीडियो उस समय का है जब इफ्तखारुद्दीन कानपुर के कमिश्नर थे और उसी दौरान उन्होंने कट्टरता परोसने में माहिर कुछ अपने मौलानाओं को अपने सरकारी बंगले पर बुलाकर इस पाठशाला का आयोजन किया था.

  • Share this:

कानपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh)  शासन के एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन (IAS Mohammad Iftikharuddin)  के कई वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया (Social Media) में वायरल हो रहे हैं, जिसमें उनके सरकारी आवास पर कट्टरता का पाठ पढ़ाया जा रहा है. अब यह वायरल वीडियो मुख्यमंत्री ऑफिस तक भी पहुंच चुका है और अब इस पर एक्शन भी हो सकता है.  इस बीच पुलिस ने अब वायरल वीडियो की जांच के आदेश दे द‍िए हैं. एडिशनल सीपी पूर्वी अब इसकी जांच करेंगे. वायरल वीडियो में आईएएस अफसर इफ्तिखारुद्दीन अपने सरकारी आवास पर कुछ धर्मगुरुओं के साथ दिखाई दे रहे हैं. वे कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि ऐलान करो दुनिया के इंसानों से कि अल्लाह की बादशाहत और निजामियत पूरी दुनिया में कायम करनी है. हालांकि न्यूज़18 इस वायरल वीडियो या फोटो की पुष्टि नहीं करता हैं.

उत्तर प्रदेश के सीनियर आईएएस अफसर इफ्तखारुद्दीन की ‘कट्टरता वाली पाठशाला’ का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है. सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, यह वायरल वीडियो उस समय का है जब इफ्तखारुद्दीन कानपुर के कमिश्नर थे और उसी दौरान उन्होंने कट्टरता परोसने में माहिर कुछ अपने मौलानाओं को अपने सरकारी बंगले पर बुलाकर इस पाठशाला का आयोजन किया था. जिसमें वह खुद भी कट्टरता की भूमिका में नजर आ रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद अब सीनियर आईएएस की शिकायत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंच चुकी है. अब यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि इफ्तखारुद्दीन ने पद पर कार्यरत रहने के दौरान कट्टरता के साथ-साथ धर्मांतरण को भी बढ़ावा दिया.

CM ऑफिस तक पहुंचा मामला
एक अन्य वायरल वीडियो में एक धर्मगुरु एक कहानी सुना रहे हैं, जिसमें वह हिन्दुओं के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया  पर सवाल उठाते हुए दिखाई दे रहे है. इस दौरान इफ्तखारुद्दीन भी वहां मौजूद हैं. धर्मगुरु बता रहा है कि मौत के बाद बहन बेटियों को जलाने से क्षुब्ध एक हिंदू ने इस्लाम धर्म अपना लिया. अगर सूत्रों की माने तो यह वीडियो कानपुर से लेकर लखनऊ और पंचम तल तक पहुंच चुका है और इसकी चर्चा भी बड़ी जोर शोर से हो रही है.

केशव प्रसाद मौर्य ने बताया गंभीर मामला
इस पूरे मसले पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या का कहना है कि यह एक गंभीर मामला है. अगर ऐसा कुछ है, तो उसको गंभीरता से लिया जाएगा. मठ एवं मंदिर समन्वय समिति के अध्यक्ष भूपेश अवस्थी ने इस मामले की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत की है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज