कानपुरः बाइक ओवरटेक को लेकर जूनियर डॉक्टरों और बाहरी लोगों में हिंसा

विवाद की शुरुआत बाइक ओवरटेक करने को लेकर हुई. यह विवाद कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों और बाहरी लोगों के बीच मंगलवार देर रात हुआ.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 29, 2018, 12:17 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 29, 2018, 12:17 PM IST
कानपुर में मामूली बात पर विवाद हो गया. विवाद इतना बढ़ गया कि दो पक्षों में लाठी, डंडे और पत्थर चले. घटना मंगलवार देर रात की है. विवाद की शुरुआत बाइक ओवरटेक करने को लेकर हुई. यह विवाद कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों और बाहरी लोगों के बीच मंगलवार देर रात हुआ.

बीच सड़क पर खूब अराजकता हुई. बवाल, तोड़फोड़ और मारपीट से हड़कंप मच गया. जूनियर डॉक्टर और बाहरी लड़के हाथों में डंडे लिए सड़क पर बवाल करते रहे. घटना की सूचना मिलते ही एसपी समेत कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई और स्थिति को संभाला.

आपको बता दें कि मंगलवार देर रात मेडिकल कॉलेज गेट पर बाइक ओवरटेक को लेकर जूनियर डॉक्टरों और बाहरी लड़कों में विवाद हो गया. इसके बाद बाहरी लड़कों ने अपने कई साथियों को बुला लिया और जूनियर डॉक्टरों को पीटने लगा, बाइकें तोड़ दीं और लाठी डंडों से पिटाई करने लगे.

इसके बाद डॉक्टरों से मारपीट और तोड़फोड़ की सूचना पर मेडिकल कॉलेज से भारी संख्या में जूनियर डॉक्टर सड़कों पर आ गये और बाहरी युवकों को पीटने लगे. मारपीट में दोनों पक्षों से कई लोगों को चोट आई है.

बाद में पुलिस ने किसी तरह हालात काबू में किए. सीनियर डॉक्टरों ने बताया कि जूनियर डॉक्टरों से बाहरी लड़कों ने मारपीट करके बाइकें तोड़ दीं और उनकी चेन लूट ली. उन्होंने कहा कि वे आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए तहरीर देंगे.

घटना में कई जूनियर डॉक्टर घायल हुए हैं. कानपुर के एसपी वेस्ट ने कहा कि हिंसा करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी, दोषी चाहे जो हो. बीच सड़क पर गुंडई करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. पुलिस से अभद्रता करने वालों पर भी कार्रवाई की जाएगी.

रिपोर्ट - श्याम तिवारी

ये भी पढ़ें - 

आज है मेजर ध्यानचंद की 113वीं जयंती, हिटलर भी था हॉकी के जादूगर का मुरीद


विशेषाधिकार हनन का मामला: सभापति ने पीलीभीत के SP को किया सदन में तलब


काशी घाट पर 150 पत्नी पीड़ित पुरुषों ने की पिशाचिनी मुक्ति पूजा


इन Emails पर न करें क्लिक, मिनटों में खाली हो जाएगा बैंक अकाउंट
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर