Home /News /uttar-pradesh /

water crises news kanpur student make unique device to stop water wastage help to farmers in irrigation upns

Kanpur: पानी की बर्बादी को रोकेगा यह अनोखा डिवाइस, जानिए कैसे मिलेगा किसानों को फायदा

 डिवाइस मिट्टी में कितने प्रतिशत नमी पेड़ पौधों के लिए फायदेमंद होगी और इसकी पूरी जानकारी देगी.

डिवाइस मिट्टी में कितने प्रतिशत नमी पेड़ पौधों के लिए फायदेमंद होगी और इसकी पूरी जानकारी देगी.

कॉलेज के हेड ऑफ डिपार्टमेंट डॉक्टर मनीष राजपूत ने बताया जल संरक्षण के तहत लगातार केंद्र सरकार लोगों से पानी बचाने की अपील करती है. गिरते जल स्तर को लेकर जहां सभी चिंतित है, तो ऐसे में पानी को कैसे बचाया जाए इसको लेकर केमिकल इंजीनियरिंग की छात्राओं ने शोध किया है. यह डिवाइस जल संरक्षण के लिए और उपजाऊ फसल के लिए वरदान साबित होगी.

अधिक पढ़ें ...

कानपुर. देश में गिरता भू-जल स्तर चिंता का बड़ा विषय है. पेय जल की तेजी से हो रही कमी के चलते केंद्र सरकार लगातार लोगों से जल की बर्बादी रोकने की अपील कर रही है. वहीं जल संरक्षण को लेकर ‘मेक इन इंडिया’ के तहत कानपुर (Kanpur) के अंबेडकर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की छात्राओं ने एक डिवाइस तैयार की है जो ना सिर्फ पानी की बर्बादी को रोकेगी, बल्कि उपजाऊ फसल के लिए मिट्टी को कितने पानी की आवश्यकता है, वह भी पूरी जानकारी देगा.

इस प्रोजेक्ट को बनाने वाली तीन छात्राओं ने बताया कि जल संरक्षण करना बेहद जरूरी है. क्योंकि जल है तो कल है. छात्राओं की शोध की वजह यह रही थी अक्सर देखा जाता है कि पेड़ों में पानी देने के बावजूद वह जल जाते हैं और पूरी तरह नष्ट हो जाते हैं. इसके पीछे के कारण को जानने के लिए छात्राओं ने रिसर्च की तो पता चला कि यदि पेड़ों में अधिक पानी डाला जाए तो वह भी नुकसानदायक होता है. खास तरीके से बनाई गई इस डिवाइस का काम यह है कि डिवाइस मिट्टी में कितने प्रतिशत नमी पेड़ पौधों के लिए फायदेमंद होगी और इसकी पूरी जानकारी देगी.

कीमत महज दो हजार रुपये
इस डिवाइस को बनाने में 2000 का खर्चा आया है. फिलहाल छात्राएं प्रयास कर रही है कि कम से कम रुपयों में इस बेहतर डिवाइस को तैयार किया जाए ताकि पेड़ लगाने वाले लोग इसे खरीद सके, और किसानों के लिए भी इसे खरीदना बेहद आसान हो. शोध करने वाली छात्राओं का दावा है कि इस डिवाइस से खेतों की सिंचाई के लिए कितने जल की आवश्यकता है, उसकी पूरी जानकारी मिल जाएगी. मतलब साफ है कि डिवाइस से पानी की बचत तो होगी ही साथ ही बेहतर फसल पाकर किसानों को भी बहुत फायदा होगा. शोध करने वाली छात्रा शिवानी ने बताया कि जल है तो कल है इस सोच को आगे बढ़ाते हुए ‘मेक इन इंडिया’ के तहत उनके द्वारा यह डिवाइस बनाई गई है.

उपजाऊ फसल के लिए होगा वरदान साबित
कॉलेज के हेड ऑफ डिपार्टमेंट डॉक्टर मनीष राजपूत ने बताया जल संरक्षण के तहत लगातार केंद्र सरकार लोगों से पानी बचाने की अपील करती है. गिरते जल स्तर को लेकर जहां सभी चिंतित है, तो ऐसे में पानी को कैसे बचाया जाए इसको लेकर केमिकल इंजीनियरिंग की छात्राओं ने शोध किया है. यह डिवाइस जल संरक्षण के लिए और उपजाऊ फसल के लिए वरदान साबित होगी.

Tags: CM Yogi, Iit kanpur, Indian Farmers, Kanpur news, PM Modi, UP news, Water conservation, Water Crisis

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर