विकास दुबे के खजांची नंबर 2 की कब होगी गिरफ्तारी, टॉप 15 अपराधियों में शामिल है नीरज सिंह
Kanpur News in Hindi

विकास दुबे के खजांची नंबर 2 की कब होगी गिरफ्तारी, टॉप 15 अपराधियों में शामिल है नीरज सिंह
क्षेत्राधिकारी संदीप कुुमार ने बताया कि रूरा थाना क्षेत्रर में रहने वाले नीरज सिंह गौर के खिलाफ पुलिस रजिस्टर में कई मुकदमे दर्ज हैं.

तस्वीर में विकास दुबे (Vikas Dubey) मास्क लगाए हुए है. उसके साथ शराब माफिया नीरज सिंह भी खड़ा नजर आ रहा है. वह भी मास्क लगाए हुए है. लोगों का कहना है कि वह भी विकास दुबे का खजांची के रूप में काम करता था.

  • Share this:
कानपुर.  कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे (Gangster Vikas Dubey)  के मारे जाने के बाद भी अभी कानपुर जिले में उसके कई अपराधी साथी आराम से बाहर घूम रहे हैं. हालांकि, इन अपराधियों को जेल के अंदर होना चाहिए था. मगर प्रशासन की लचीलापन की वजह से ऐसे अपराधी जेल जाने के बजाए बाहर घूम रहे हैं. इन्हीं अपराधियों में से एक है नीरज सिंह (Neeraj Singh). इसे विकास दुबे का काफी करीबी माना जाता है. कहा जाता है कि रूरा थाना (Rura Police Station) क्षेत्र के रहने वाले नीरज सिंह गौर के बाबा समाजवादी पार्टी में मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी हैं.

तस्वीर में विकास दुबे मास्क लगाए हुए है. उसके साथ शराब माफिया नीरज सिंह भी खड़ा नजर आ रहा है. वह भी मास्क लगाए हुए है. लोगों का कहना है कि वह भी विकास दुबे का खजांची के रूप में काम करता था. इस तस्वीर में गुड्डन त्रिवेदी भी नजर आ रहा है, जिसे हाल ही में मुंबई से गिरफ्तार किया गया है. पुलिसिया जांच के अनुसार गुड्डन त्रिवेदी भी घटना में विकास की मदद करता था. ग्रामीणों के अनुसार विकास का सबसे ज्यादा करीबी नीरज सिंह था, जो बीते लंबे समय से राजनीति की आड़ में कई काले कारनामे कर चुका है और पुलिस के रडार पर रहता है.

वर्तमान में तिगाई जिला पंचायत सदस्य है
वहीं, नीरज सिंह गौर वर्तमान में तिगाई जिला पंचायत सदस्य है और इनकी पत्नी अनुपमा सिंह गौर मैथा तहशील की ब्लॉक प्रमुख है. अपने बाबा की बादशाहत के चलते नाती नीरज सिंह गौर पूरे जिले में अपना दबदबा दिखाता रहा है. ग्रामीणों की माने तो रूरा का इसे विकास दुबे भी कह सकते हैं. नीरज सिंह गौर के सामने किसी की मजाल नहीं जो उसको जवाब तक दे दे. जिला पंचायत सदस्य रहते हुए नीरज ने तमाम घोटाले किए और जब इन घोटालों का पोस्टर जब एक अधिवक्ता ने तहसील क्षेत्र में लगवाए तो नीरज ने उनके ऊपर झूठे मुकदमें दर्ज करा दिए.
टॉप 15 अपराधियों की लिस्ट में शामिल है


नीरज सिंह गौर जिले के टॉप 15 अपराधियों की लिस्ट में शामिल है. इसके बावजूद उसे पुलिस का ऐसा संरक्षण प्राप्त है कि उसके खिलाफ कार्रवाई करना तो दूर की बात है, अगर उसके खिलाफ कोई शिकायत भी आती है तो थाने वाले पीड़ित को टरका देते हैं. थाने के गेट से लेकर एसपी आफिस तक नीरज हर होर्डिंग में टॉप 15 अपराधी में शामिल है. इसके बाद भी उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है.

क्या कहती है पुलिस
क्षेत्राधिकारी संदीप कुमार ने बताया कि रूरा थाना क्षेत्रर में रहने वाले नीरज सिंह गौर के खिलाफ पुलिस रजिस्टर में कई मुकदमे दर्ज हैं. फिलहाल नीरज सिंह गौर के ऊपर दर्जन मुकदमों में जांच पड़ताल की जा रही है और जल्द ही वैधानिक कार्रवाई भी की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज