लाइव टीवी

यूपी की इस पानी की टंकी पर 'सेल्फी' लेना मना है, जानिए क्यों?

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 19, 2018, 9:06 AM IST
यूपी की इस पानी की टंकी पर 'सेल्फी' लेना मना है, जानिए क्यों?
पानी की टंकी

इस मामले में स्थानीय लोगों ने बताया कि सेल्फी लेने के चक्कर में रोजाना हादसे होते रहते है. कई बार नगर निगम से लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

  • Share this:
युवाओं के लिए सेल्फी लेना खतरनाक साबित हो रहा है. आये दिन सेल्फी के चक्कर में हादसे हो रहे हैं, बावजूद इसके युवा कोई सीख नहीं ले रहे. वहीं युवा खुद को अलग दिखाने के लिए और चर्चाओं में आने के लिए अलग- अलग अंदाज से सेल्फी लेते है. इसी कड़ी में कानपुर की इस 100 फुट उंची पानी टांकी अब युवाओं के इस जोश पर कहर बनकर टूट रही है. वहीं टंकी पर सेल्फी लेने के चक्कर में करीब 90 युवा अब तक गंभीर रूप से घायल हो चुके है. नगर निगम प्रशासन ने घटनाओं को रोकने के लिए एक कर्मचारी की तैनाती तो की है, लेकिन घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं.

मामला कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र का है. इस मामले में स्थानीय लोगों ने बताया कि सेल्फी लेने के चक्कर में रोजाना हादसे होते रहते है. कई बार नगर निगम से लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. बर्रा इलाके के रहने वाले रोहित बताते हैं कि इस पानी टंकी की ऊचाई ज्यादा होने के कारण लड़कों के अंदर सेल्फी लेने का क्रेज रहता है.

सेल्फी लेते बच्चे


सेल्फी लेने के कारण कई बार लोग इस पानी की टंकी से गिरकर बुरी तरह से घायल हो चुके है. पुलिस को सूचना देने के बाद भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई. रोहित ने कहा कि मुझे लगता है पुलिस खुद मौत को दावत देने के लिए इन लड़कों पर शिकंजा नहीं कस रही हैं. एडवोकेट आदेश शर्मा ने कहा कि हादसों के बावजूद पुलिस प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा है. जबकि घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है. गौरतलब है कि चेतावनी के मुताबिक, किसी भी तरह की तस्वीर या सेल्फी लेना अपराध की श्रेणी में आता है और अगर कोई सेल्फी लेता पकड़ा गया तो वो सजा का हकदार होता है. लेकिन कानपुर पुलिस की निगाह इस पानी टंकी की तरफ नहीं दौड़ रही है.

इस पूरे मामले में सीओ गोविंदनगर राम कृष्ण चतुर्वेदी ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि फिलहाल बीते 4 महीने में मेरे पास कोई शिकायत नहीं आई है. अगर बात करें पानी टंकी के ऑपरेटर की तो उसको संबंधित थाने में शिकायत करनी चाहिए थी. चतुर्वेदी कहते हैं कि आपके माध्यम से मेरे संज्ञान में मामला आया है. जांच के बाद पानी टंकी पर सेल्फी लेने वालों को रोका जाएगा.

ये भी पढ़ें:

यूपी के आंगनवाड़ी केंद्रों में बड़ा घोटाला, पंजीकृत हैं 14 लाख से ज्यादा ‘फर्जी बच्चे’
Loading...

राजभर बोले- BJP हमें ढो क्यों रही है, हिम्मत है तो हटा दे

UP TET Exams: करीब 6 प्रतिशत ने छोड़ी परीक्षा, एसटीएफ ने किया सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2018, 9:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...