कानपुर में आवारा कुत्तों के हमले में महिला की मौत, शव को बुरी तरह नोच कर खाया
Kanpur News in Hindi

कानपुर में आवारा कुत्तों के हमले में महिला की मौत, शव को बुरी तरह नोच कर खाया
आवारा कुत्तों ने महिला को मार डाला (सांकेतिक तस्वीर)

स्थानीय लोगों के मुताबिक कुत्तों की आवाज सुनकर लोग दौड़े और पत्थर मारकर झुंड को वहां से भगाया. लेकिन अंधेरा होने के चलते जब तक लोग समझ पाते महिला की पहले ही मौत हो चुकी थी.

  • Share this:
कानपुर. जनपद में एक दिल को झगझोर देने वाला वाकया सामने आया है. यहां आवारा कुत्तों (Stray Dogs) ने एक महिला को अपना निवाला बना लिया. मंगलवार की भोर में गीता नगर काकादेव इलाके में आवारा कुत्तों ने एक महिला को बुरी तरह से नोच डाला. जब तक इलाकाई लोग कुत्तों की गिरफ्त से उस महिला को बचा पाते उसकी मौत हो चुकी थी. सूचना पर पहुंची पुलिस (Police) ने महिला के क्षत-विक्षत शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम (Postmortem) के लिए भिजवाया.

महिला की शिनाख्त नहीं हो सकी
रिपोर्ट के मुताबिक गीता नगर काकादेव इलाके में आवारा कुत्तों ने महिला को सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात नोच-नोच कर मार डाला. इलाकाई लोगों ने कुत्तों के झुंड को पत्थर मार कर भगाया और काकादेव पुलिस को सूचना दी. पुलिस के मुताबिक गीता नगर में मंगलवार सुबह 45 वर्षीय महिला का शव मिला जिस पर कुत्तों के झुंड ने हमला किया था. स्थानीय लोगों के मुताबिक कुत्तों की आवाज सुनकर इलाकाई लोग दौड़े और पत्थर मारकर झुंड को वहां से भगाया. लेकिन अंधेरा होने के चलते जब तक लोग समझ पाते महिला की पहले ही मौत हो चुकी थी. सूचना पर पहुंची काकादेव पुलिस ने महिला की शिनाख्त की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली. काकादेव इंस्पेक्टर कौशल किशोर दीक्षित ने बताया शव देखने से लग रहा कि कुत्तों ने महिला को नोचकर मार डाला. रात का मामला होने के चलते कोई देख नहीं सका. भोर में लोग घरों से बाहर निकले तो कुत्ते शव नोच रहे थे. पुलिस ने जांच के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

लोगों में आक्रोश
वहीं इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में आक्रोश भी दिखा. लोगों का आरोप है कि आवारा कुत्तों का शहर में आतंक है शहर के कई इलाकों में आवारा कुत्ते झुंड बनाकर वृद्ध, बच्चों को और महिलाओं को अक्सर अपना शिकार बनाने का प्रयास करते हैं इसके चलते कई बार लोग चोटिल भी हुए हैं और अस्पतालों में भर्ती भी हुए हैं. नगर-निगम विभाग के लोगों को सूचना देने के बावजूद ना तो कार्रवाई हुई और ना ही अधिकारी इसे गंभीरता से लेते हैं. इस घटना के बाद नगर निगम के अधिकारियों को सूचना देने के बावजूद वहां से कोई नहीं पहुंचा. इस मामले पर News 18 संवाददाता ने जब नगर निगम के जोनल अधिकारी से बात की तो उन्होंने मामले से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि यह मामला उनके संज्ञान में नहीं है, आवारा जानवरों को पकड़ने का काम कैटल कैचिंग दस्ता करता है.



ये भी पढ़ें- UP के प्रवासी श्रमिकों से घर वापसी के लिए अन्य राज्य ट्रेन का किराया न लें: सीएम योगी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading