• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • DL के लिए 5000 रुपए रिश्वत नहीं दे सका युवक, आर्थिक तंगी से परेशान होकर दे दी जान

DL के लिए 5000 रुपए रिश्वत नहीं दे सका युवक, आर्थिक तंगी से परेशान होकर दे दी जान

Kanpur News: मृतक के घर में मचा कोहराम

Kanpur News: मृतक के घर में मचा कोहराम

Kanpur Crime News: कानपुर के आरटीओ कार्यालय में आवेदन के बाद भी कई महीनों तक हेवी ड्राइविंग लाइसेंस नहीं मिला. आरटीओ के अधिकारी ने कहा- रिश्वत मामले की गहनता से जांच कराई जाएगी. जो दोषी होगा, उस पर करेंगे कार्रवाई.

  • Share this:

कानपुर. यूपी के कानपुर (Kanpur) जिले में शनिवार को बेहद चौंका देने वाली घटना सामने आई है. यहां ड्राइविंग लाइसेंस न बनने से परेशान युवक ने जान दे दी. बताया जा रहा है कि युवक कानपुर के आरटीओ कार्यालय के पिछले कई महीने से चक्कर लगा रहा था. बिधनू के कारगिल कॉलोनी के रहने वाले युवक ने अगस्त में आरटीओ कार्यालय में हैवी ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई किया था. मगर कार्यालय के लिपिक द्वारा रिश्वत मांगे जाने और घर की आर्थिक तंगी भी परेशान कर रही थी जिसके बाद युवक ने घर में फांसी के फंदे पर लटक कर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. घटना के बाद मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है.

जानकारी के अनुसार, बिधनू थाना क्षेत्र के गंगापुर कारगिल कॉलोनी निवासी सत्येंद्र कुमार का 25 वर्षीय पुत्र आशीष ऑटो चालक था. आज सुबह पिता की नींद खुली तो उसने देखा कि आशीष बिस्तर पर नहीं है. घर में ढूंढने के बाद जब ऊपर छत पर चढ़ा तो अपने बेटे को फंदे पर लटका देखा. जिसके बाद से घर में चीख-पुकार मच गई. आनन-फानन में उसे नजदीक के अस्पताल में ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. मृतक की मां पूनम ने बताया कि बेटा आशीष पर पूरे परिवार की जिम्मेदारी थी. साथ ही छोटी बहन शिवानी की शादी को लेकर भी हो परेशान था. बेटा पुराना ऑटो खरीद कर चला रहा था.

यह भी पढ़ें- ‘सबका साथ सबका विकास’ के नारे के बीच क्या है BJP की कास्ट पॉलिटिक्स! जानिए छोटे दलों की अहमियत

बीते तीन माह पहले ऑटो खराब हो गया जिसके बाद उसने हैवी लाइसेंस बनाने के लिए आरटीओ कार्यालय में अप्लाई किया, ताकि वह बड़ा वाहन चला सके और उसे तनख्वाह भी ज्यादा मिले. मां के मुताबिक आशीष अपना हैवी लाइसेंस बनाने के लिए आरटीओ कार्यालय में कई बार गया वहां मौजूद लिपिक में उससे 5000 रुपये घूस की डिमांड की. जिसके बाद से वह परेशान चल रहा था. मामले पर आरटीओ प्रशासक सुधीर कुमार वर्मा ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में नहीं है. मगर घूस वाली बात की जांच कराई जाएगी और दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज