लाइव टीवी

गुड़गांव से बस्ती पैदल जा रहे युवक की कानपुर में मौत, Corona Positive आई रिपोर्ट
Kanpur News in Hindi

Amit Ganjoo | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 22, 2020, 9:31 AM IST
गुड़गांव से बस्ती पैदल जा रहे युवक की कानपुर में मौत, Corona Positive आई रिपोर्ट
इंदौर में कोरोना मरीजों ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

युवक समय हरियाणा के गुड़गांव से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बस्ती के लिए पैदल ही निकल पड़ा. कानपुर पहुंचने पर उसकी तबीयत खराब हो गई. बुधवार को हॉस्पिटल में भर्ती किया और उसकी मौत हो गई. जिसके बाद उसकी रिपोर्ट आई तो वह कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) निकला.

  • Share this:
कानपुर. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोके के लिए देशभर में लॉकडाउन लागू है. ऐसे में प्रवासी मजदूरों ने पलायन करना शुरू कर दिया. वहीं समय नाम का एक प्रवासी युवक मजदूर (Migrant Youth) गुड़गांव से पैदल ही उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के लिए निकल पड़ा. कानपुर पहुंचने पर अधिकारियों की नजर उस पर पड़ी. उनके पूछने पर उसने बताया कि वह बस्ती का निवासी है और लॉकडाउन के दौरान रोजी-रोटी का संकट (Unemployment) सताने लगा तो वह घर के लिए पैदल ही चल पड़ा है. समय ने बताया कि उसके पास पैसे नहीं बचे थे इसलिए वह पैदल ही अपने गांव पहुंचने के लिए निकल पड़ा. लेकिन युवक की रास्ते में तबीयत खराब होती चली गईं. कानपुर पहुंचने पर उसकी थर्मल स्क्रीनिंग (Thermal Screening) कराई गई जिस दौरान उसे तेज बुखार, सांस लेने में तकलीफ और उल्टी की शिकायत हुई. उसकी ऐसी स्थिति देखकर उसे बुधवार को हैलट अस्पताल में भर्ती कराया गया.

हैलट अस्पताल में युवक को कराया गया था भर्ती

समय को न्यूरोसाइंस सेंटर के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत बिगड़ती चली गई और आखिरकार उसकी मौत हो गई. उसे covid वार्ड में भर्ती कराया गया था इसलिए डॉक्टरों ने उसके शव को अस्थाई मोर्चरी में रखवाया और उसकी ब्लड टेस्ट रिपोर्ट का इंतजार करने लगे. लगभग 8 घंटे बाद जब समय की रिपोर्ट आई तो कोरोना की पुष्टि हुई. इसकी सूचना तत्काल मुख्य चिकित्सा अधिकारी और प्राचार्य को दी गई. देर रात आई रिपोर्ट के बाद कोविड आईसीयू को सैनिटाइज कराया गया.



युवक को बीपी, शुगर और सांस की बीमारी थी



डॉक्टरों के मुताबिक उसे शुगर, बीपी और सांस की बीमारी थी. उसे खून की उल्टियां भी आ रही थी जिस पर डॉक्टरों की एक टीम ने उसके इलाज की शुरुआत की. हालांकि दवाई देने के बाद भी उसने रिस्पांस नहीं किया क्योंकि उसकी इम्युनिटी लेवल बहुत कमजोर थी. ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर गौरव ने बताया कि समय को जो भी दवाइयां दी जा रही थीं उसका उस पर कोई भी दवा असर नहीं कर रही थी. इसके चलते उसकी मौत हो गई.

कोविड प्रोटोकाल के तहत उसका अंतिम संस्कार होगा

इस पूरे मामले पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी अशोक कुमार शुक्ला ने बताया कि इलाज के दौरान बस्ती के रहने वाले प्रवासी कामगार की मौत हुई है. उसके परिजनों का पता लगाया जा रहा है और कोविड प्रोटोकॉल के तहत आज उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: मजदूर की मजबूरी: 10 दिन में 780 KM पैदल चला श्रमिक, 7 दिन नसीब नहीं हुई रोटी

नोएडा में फंसे 80 हजार श्रमिकों की गुहार, ठग बना रहे शिकार, मदद करो सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 8:20 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading