Home /News /uttar-pradesh /

Zika Virus in Kanpur: पहले संक्रमित के बाद 32 महिलाओं समेत 258 संदिग्धों का सैंपल KGMU भेजा गया

Zika Virus in Kanpur: पहले संक्रमित के बाद 32 महिलाओं समेत 258 संदिग्धों का सैंपल KGMU भेजा गया

कानपुर जिले के पहले जीका वायरस संक्रमित एमएम अली को चार-पांच दिन से बुखार आ रहा था.

कानपुर जिले के पहले जीका वायरस संक्रमित एमएम अली को चार-पांच दिन से बुखार आ रहा था.

उत्तर प्रदेश में एक व्यक्ति जीका वायरस (Zika Virus in UP) से संक्रमित पाया गया है. कानपुर में इस वायरस से संक्रमित (Zika Virus in Kanpur) पहला शख्स मिला है. चकेरी स्थित एयरफोर्स स्टेशन के वारंट अफसर एमएम अली (57) में जीका वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद से जिले के स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया. इसके बाद कानपुर जिले के स्वास्थ्य विभाग ने जीका वायरस के लक्षण वाले 49 रोगियों को सैंपल कलेक्ट कर उसे जांच के लिए केजीएमयू भेज दिया है. विभाग ने 32 गर्भवती महिलाओं समेत 258 लोगों के सैंपल केजीएमयू भेज दिए हैं. इनमें 175 सैंपल एयर फोर्स एरिया के हैं.

अधिक पढ़ें ...

    कानपुर. उत्तर प्रदेश में एक व्यक्ति जीका वायरस (Zika Virus in UP) से संक्रमित पाया गया है. कानपुर में इस वायरस से संक्रमित (Zika Virus in Kanpur) पहला शख्स मिला है. चकेरी स्थित एयरफोर्स स्टेशन के वारंट अफसर एमएम अली (57) में जीका वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद से जिले के स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया. इसके बाद कानपुर जिले के स्वास्थ्य विभाग ने जीका वायरस के लक्षण वाले 49 रोगियों को सैंपल कलेक्ट कर उसे जांच के लिए केजीएमयू भेज दिया है. पहले संक्रमित के मिलने के बाद से सतर्कता बरत रहा स्वास्थ्य विभाग जीका वायरस के लक्षण वाले मरीजों का सैंपल कलेक्ट कर रहा है. विभाग ने 32 गर्भवती महिलाओं समेत 258 लोगों के सैंपल केजीएमयू भेज दिए हैं. इनमें 175 सैंपल एयर फोर्स एरिया के हैं.

    जिले के पहले जीका वायरस संक्रमित एमएम अली को चार-पांच दिन से बुखार आ रहा था, जिसके बाद परिजनों ने उन्हें एयरफोर्स अस्पताल में एडमिट कराया था. लक्षणों के आधार पर अस्पताल प्रबंधन ने उनका सैंपल जांच के लिए पुणे भेजा था, जिसकी रिपोर्ट शनिवार को आई. रिपोर्ट मिलने के बाद से जिले में हड़कंप मच गया.

    एमएम अली के साथ काम करने वाले और उनके संपर्क में आए अन्य लोगों का सैंपल लेकर जांच के लिए पुणे भेजा गया है. साथ ही संक्रमण को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं. कानपुर में जीका वायरस की पुष्टि होने के बाद दिल्ली के विशेषज्ञों की टीम भी अस्पताल पहुंची. साथ ही मरीज के संपर्क में आने वालों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं. जीका वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए 10 टीमें गठित की गई हैं. प्रशासन भी इस बाबत पूरी सतर्कता बरत रहा है.

    डीएम ने की बैठक
    संक्रमण की पुष्टि के बाद जिलाधिकारी कानपुर विशाख जी ने एयरफोर्स अस्पताल, जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज, उर्सला, डफरिन, कांशीराम अस्पताल के स्वास्थ्य विशेषज्ञों की बैठक बुलाई. प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मरीज से संबंधित स्थानों का निरीक्षण किया और रोग से बचाव के कदम उठाए गए. साथ ही नगर निगम की टीम से फॉगिंग और मच्छर मारने की दवा का छिड़काव करने के लिए कहा गया है. जिलाधिकारी ने बताया कि मरीज में जीका की पुष्टि हुई है. यह यूपी का पहला मामला है. रोकथाम के कदम उठाए जा रहे हैं. इसका वायरस कोरोना की तरह नहीं फैलता? यह डेंगू की तरह वेक्टर बोर्न है.

    Tags: Zika Virus, Zika Virus Symptoms

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर