कासगंज में प्रसव पीड़ित महिला को नहीं मिली 108 एंबुलेंस, बच्चे की मौत
Kasganj News in Hindi

कासगंज में प्रसव पीड़ित महिला को नहीं मिली 108 एंबुलेंस, बच्चे की मौत
कासगंज में प्रसव पीड़ित महिला को नहीं मिली 108 एंबुलेंस (Demo Pic)

इस बारे में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 प्रतिमा श्रीवास्तव से जानकारी की तो उन्होंने बताया कि मानपुर नगरिया में एंबुलेंस देरी से पहुंचने की वजह से शिशु की मौत की शिकायत पीड़ित ने उनसे नहीं की है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
कासगंज. यूपी सरकार गांव में लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के लिए 108 व 102 एंबुलेंस सेवा चला रही है. ताकि आपात काल में लोगों को समय से अस्पताल पहुंचा सके, लेकिन धरातल पर हकीकत सोमवार शाम को कुछ और ही दिखी. कासगंज में एक गर्भवती महिला ने बीती रात एंबुलेंस के इंतजार में घर पर ही बच्चे को जन्म दे दिया. जहां जन्म के कुछ देर बाद ही नवजात बच्चे की मौत हो गई जबकि महिला सुरक्षित है. दरअसल 15 मिनट कहकर एक घंटे बाद पहुंची एंबुलेंस में तैनात स्वास्थ्य कर्मियों के प्रति परिजनों ने आक्रोश व्यक्त किया. वहीं परिजनों का कहना था कि समय पर एंबुलेंस मिलती तो प्रसव स्वास्थ्य केंद्र पर होता तो बच्चा सुरक्षित रहता.

आपको बता दें जनपद कासगंज के विकासखंड सोरों क्षेत्र के मानपुर नगरिया की यादव नगर कॉलोनी निवासी शिव कुमार की पत्नी पूजा को बीती रात प्रसव पीड़ा हुई. इस पर पति ने 108 एंबुलेंस को कॉल की थी. आरोप है कि एंबुलेंस के 15 मिनट में पहुंचने की जानकारी दी गई. जबकि आधे घंटे बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची, तो पूजा ने घर पर ही बच्चे को जन्म दे दिया. और कुछ देर बाद ही बच्चे की मौत हो गई. लेकिन कुछ समय बाद एंबुलेंस पहुंच गई. तो पूजा के मृत बच्चे को लेकर एम्बुलेंस के पास पहुंच गए और विरोध दर्ज कराया.

शिवकुमार का आरोप है कि एंबुलेंस को देरी से पहुंचने की वजह से नवजात बच्चे की मौत हुई है. उनका कहना था कि यदि एंबुलेंस सही समय पर पहुंच जाती तो उसकी पत्नी का प्रसव सरकारी अस्पताल में हो जाता और बच्चे की भी जान बच जाती. वहीं इस बारे में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 प्रतिमा श्रीवास्तव से जानकारी की तो उन्होंने बताया कि मानपुर नगरिया में एंबुलेंस देरी से पहुंचने की वजह से शिशु की मौत की शिकायत पीड़ित ने उनसे नहीं की है. लेकिन एंबुलेंस देरी से पहुंचने की जानकारी की जाएगी और एंबुलेंस को कॉल करने और उसके पहुंचने की भी जांच की जाएगी. जांच में एंबुलेंस चालक की लापरवाही पाई जाती है तो उसके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई होगी.



ये भी पढ़ें:



लखनऊ: 5 महीने की बच्ची से रेप के बाद हत्या करने वाला चचेरा भाई गिरफ्तार
First published: February 18, 2020, 10:20 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading