दलित महिला अधिकारी को पानी न पिलाए जाने के मामले में 6 के खिलाफ FIR दर्ज

डाक्टर सीमा का आरोप है कि उनके दलित होने के नाते ऊंची जाति से सम्बन्ध रखने वाले पंचायत सेक्रेटरी और बीडीसी सदस्य के इशारे पर उन्हें ग्रामीणों ने पानी नहीं पिलाया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 2, 2018, 7:59 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 2, 2018, 7:59 PM IST
यूपी के कौशांबी जिले में दलित महिला अधिकारी को पानी न पिलाये जाने के मामले में 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज़ कराई गई है. जिले की मंझनपुर कोतवाली में दर्ज हुई इस एफआईआर में पंचायत सेक्रेटरी और तीन ग्राम प्रधानों को आरोपी बनाया गया है.

दरअसल मंझनपुर ब्लाक के अम्बावापूरब गांव में विकास कार्यो की समीक्षा करने गयी पशुचिकित्सा अधिकारी डाक्टर सीमा को पानी मांगने के बाद भी पानी नहीं दिया गया था. डाक्टर सीमा का आरोप है कि उनके दलित होने के नाते ऊंची जाति से सम्बन्ध रखने वाले पंचायत सेक्रेटरी और बीडीसी सदस्य के इशारे पर उन्हें ग्रामीणों ने पानी नहीं पिलाया.

''हिंदुस्तान धर्मशाला नहीं है, घुसपैठियों को कान पकड़कर देश से बाहर निकाल देना चाहिए''

इस मामले को न्यूज18 ने प्रमुखता से उठाया था. न्यूज18 में इस मामले को प्रमुखता से उठाए जाने के बाद हरकत में आए जिला प्रशासन ने इस पूरे मामले में एफआईआर दर्ज करायी है. पुलिस अधीक्षक का कहना है कि मामले की जांच के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है.

मेरठ के जंगल में सजाया था अवैध हथियारों का जखीरा, पुलिस ने किया जब्त
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर