कौशांबी: जानिए 241 साल से जारी श्रीराम और रावण के 'कुप्पी युद्ध' का इतिहास

जानिए 241 साल से जारी श्रीराम और रावण के 'कुप्पी युद्ध' का इतिहास
जानिए 241 साल से जारी श्रीराम और रावण के 'कुप्पी युद्ध' का इतिहास

इस बार कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते विशेष सावधानी बरती जा रही है. कुप्पी युद्ध से पहले पूरे मैदान को सैनिटाइज कराया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 6:55 PM IST
  • Share this:
कौशांबी. यूपी के कौशांबी (Kaushambi) जिले में दारानगर (Daranagar) कस्बे के दो दिवसीय कुप्पी युद्ध (Kuppi Yuddh) आयोजन रविवार को किया गया. इस बार राम और रावण दल के बीच होने वाले ऐतिहासिक कुप्पी युद्ध का 241वां आयोजन है. इस युद्ध में राम- रावण दल की सेनाएं वास्तविक युद्ध करती है. जिसे देखने के लिए आस-पास के इलाके से बड़ी तादात में लोग जमा होते है. यहां की रामलीला अनवरत 241 वर्षो से बिना किसी बाधा के परंपरा अनुसार होती चली आ रही है. कुप्पी युद्ध का रोमांच ही ऐसा होता है कि इसे देखने के लिए दर्शक खुद ब खुद मैदान में खिचे चले आते है.

असत्य पर सत्य की जीत

दो दिवसीय कुप्पी युद्ध में पहले दिन रावण की सेना की जीत होती है तो दूसरे दिन राम की सेना असत्य पर सत्य की जीत का विजय पर्व मानती है. इस बार कोरोना वायरस के चलते विशेष सावधानी बरती जा रही है. कुप्पी युद्ध से पहले पूरे मैदान को सैनिटाइज कराया गया. दोनों तरफ के सेनानी मैदान में मास्क लगाकर युद्ध किया.



क्या है कुप्पी युद्ध
इस युद्ध में राम-रावण दल की सेनाएं आपस में युद्ध करती हैं. जिसे देखने के लिए दूर-दराज से बड़ी तादात में लोग जमा होते हैं. यहां की रामलीला अनवरत 241 वर्षों से जारी है. दो दिवसीय कुप्पी युद्ध में काले कपड़ों में रावण की सेना लड़ती है तो केसलिया कपड़ों में राम की. दूसरे दिन लाल कपड़ों में युद्ध करने वाले श्रीराम की सेना की जीत का विजय पर्व मानाया जाता है.

विशेष प्रकार की कुप्पी से होता है वार
दोनों सेनाओं के बीच ऊंट की खाल से तैयार की गई विशेष प्रकार की कुप्पी से वार किया जाता है. कुछ वर्षों से प्लास्टिक की कुप्पी का उपयोग भी होता है. इसे देख कर दर्शक रोमांच से भर उठते हैं. दारानगर की रामलीला में कुप्पी युद्ध के दौनान दो दिनों के अंदर कुल सात बार लड़ाई होती है. पहले दिन चार चरणों में लड़ाई होती है तो दूसरे दिन तीन. दोनों दिन के सभी सात युद्ध 10-10 मिनट के होते हैं. राम व रावण दोनों ही दल में 25-25 सेनानी होते हैं.

(रिपोर्ट- अरविंद राणा)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज