सगे चाचा की शर्मनाक करतूत, 8 लाख में तय किया भतीजी का सौदा

युवती के घर पहुंचे मामा और मौसा को दबंग चाचा ने बंधक बना लिया और जमकर पिटाई की.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 23, 2018, 9:52 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 23, 2018, 9:52 PM IST
कौशाम्बी जिले में एक चाचा पर पैसों के खातिर अपनी बेटी समान सगी भतीजी का सौदा आठ लाख रुपये में करने का आरोप लगा है. इतना ही नहीं, चाचा पीड़ित युवती की मर्जी के बिना चोरी छिपे उसे मथुरा से शादी करने के बहाने सौदागरों के साथ भेजने की फिराक में था. तभी युवती को पूरे मामले की जानकारी हो गई और समय रहते पीड़ित युवती ने पूरी बात अपने मामा को फोन कर बता दी. कुछ रिश्तेदारों के साथ घर पहुंचे मामा और मौसा को  चाचा ने बंधक बना लिया और जमकर पिटाई की. इस पर युवती की सूचना पर मौके पर पहुंची डायल-100 पुलिस ने चाचा के चंगुल से सभी को छुड़वाया. वहीं मौका देखकर आरोपी चाचा और सौदागर फरार हो गए.

घटना सरांय अकिल थाना क्षेत्र के तरना गांव की है. यहां रहने वाली युवती सीतू का आरोप है कि उसके सगे चाचा बाबू लाल ने उसका सौदा आठ लाख रुपये में मथुरा के एक सौदागर के हाथ कर उसे बेच दिया. शुक्रवार को युवती को लेने जब सौदागर उसके घर पहुंचे तो चाचा की सारी करतूत युवती को पता चल गई. पीड़ित युवती ने बताया कि जब उसे सारी बात पता चली तो उसने अपने मामा मनोज और मौसा को फोन पर घटना की जानकारी दी. इस पर युवती के घर पहुंचे मामा और मौसा को दबंग चाचा ने बंधक बना लिया और जमकर पिटाई की.

पीड़ित युवती ने मामले की शिकायत एसपी प्रदीप गुप्ता से करते हुए बताया कि उसका पिता बनवारी लाल बेहद ही गरीब और दिव्यांग है. उसके घर में सिर्फ उसके चाचा की ही चलती है, जिसने मथुरा जिले से शादी करवाने के बहाने उसे सौदागरों के साथ भेजने की कोशिश की. पीड़िता ने बताया कि एसपी ने चाचा के खिलाफ कार्रवाई करने का भरोसा दिया है.

पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने बताया कि पीड़ित युवती की शिकायत के आधार पर चाचा के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस जल्द ही आरोपी चाचा की तलाश में जुटी है. जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्तर में होंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर