नक़ल के लिए छात्र ने नहीं दिए पैसे तो प्रधानाचार्य ने जमकर पीटा

आकाश नामक छात्र ने बताया कि रिश्वत न देने पर प्रिंसपल के बेटे और चपरासी ने उसकी बेरहमी से पिटाई की. जिससे छात्र के सर में गंभीर चोटें आई हैं. इस घटना के बाद विद्यालय में परीक्षा दे रहे छात्र आक्रोशित हो गए और वहां जमकर तोड़फोड़ की.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 16, 2018, 11:46 AM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 16, 2018, 11:46 AM IST
कौशाम्बी जिले में इंटर की परीक्षा के दौरान नक़ल के लिए पैसे न देने पर छात्र की पिटाई किये जाने का मामला सामने आया है. छात्र का आरोप है कि कालेज के प्रधानाचार्य नक़ल कराने के बदले में दस हजार की रिश्वत मांग रहे थे.

आकाश नामक छात्र ने बताया कि रिश्वत न देने पर प्रिंसपल, उसके बेटे और चपरासी ने उसकी बेरहमी से पिटाई की. जिससे छात्र के सर में गंभीर चोटें आई हैं. इस घटना के बाद विद्यालय में परीक्षा दे रहे छात्र आक्रोशित हो गए और वहां जमकर तोड़फोड़ की.

सूचना के बाद मौके पर पहुंचे आलाधिकारियों ने परीक्षार्थियों को समझाबुझा कर शांत कराया इस बवाल के बाद लगभग पैंतालीस मिनट तक परीक्षा रुकी रही बाद में अतिरिक्त समय देकर परीक्षा संपन्न कराई गई.

यह मामला मंझनपुर तहसील के अंतरगत आने वाले फैजीपुर गांव में स्थित लक्ष्मी देवी इंटर कालेज का है.जहां इंटर के छात्रों भौतिक विज्ञान का पेपर दे रहे थे. इसी दौरान कालेज के प्रिंसपल देवेन्द्र कुमार द्वारा नक़ल करवाने के बदले में दस हजार रुपये की मांग की जाने लगी रुपये न देने पर छात्रो के साथ मारपीट की गई.

छात्रो के आरोप में कितनी सच्चाई है यह तो जांच का विषय हो सकता है लेकिन परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र में प्रिंसपल का बेटा वहां कैसे मौजूद था यह अपने आप में बड़ा सवाल है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर