Home /News /uttar-pradesh /

UP: कौशाम्बी में मुफ्त दिए गए बल्ब और बॉक्स में मिली सिम लगी डिवाइस, आतंकी साजिश की आशंका

UP: कौशाम्बी में मुफ्त दिए गए बल्ब और बॉक्स में मिली सिम लगी डिवाइस, आतंकी साजिश की आशंका

UP: कौशाम्बी में मुफ्त दिए गए बल्ब और बॉक्स में सिम लगी डिवाइस मिलने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है.

UP: कौशाम्बी में मुफ्त दिए गए बल्ब और बॉक्स में सिम लगी डिवाइस मिलने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है.

Kaushambi News: कौशाम्बी के भरवारी कस्बे में कुछ व्यक्तियों को ऐसे बल्ब और बॉक्स मुफ्त में दिए गए हैं, जिसमें इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लगी हुई है. इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में सिमकार्ड भी है. डिवाइस में मोबाइल की तरह IMEI नम्बर भी है.

कौशांबी. उत्तर प्रदेश के कौशाम्बी (Kaushambi) में मुफ्त में दिए गए बल्ब और बॉक्स में मोबाइल सिम लगी डिवाइस मिलने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल ग्राम उजाला योजना के तहत अनिकेत केशरवानी के पास बल्ब लेने के लिए फोन आया था. अनिकेत ने होल्डर खोल कर देखा तो होल्डर में एयरटेल कम्पनी का सिम लगा था. होल्डर में सिम देख अनिकेत ने लोकल पत्रकारों से सम्पर्क कर जानकारी दी. मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस और एसओजी ने बल्ब और होल्डर को कब्जे में ले लिया है. वहीं आतंकवादी कनेक्शन होने के शक में पुलिस मामले की जांच कर रही है. अभी तक की पूछताछ में पता चला है कि अनिकेत को दो लोग बल्ब और होल्डर देकर गए थे. ये मामला कोखराज के भरवारी कस्बे का है.

दरअसल दशहरा, दीपावली और मोहर्रम नजदीक है. इसी का फायदा उठाकर आतंकवादी संगठन कुछ बड़ी घटना करने की फिराक में हैं. सुरक्षा एजेंसियां इसे लेकर अलर्ट मोड पर हैं. ताजा मामला कौशाम्बी जिले के भरवारी कस्बे का है. यहां कुछ लोग ने कुछ व्यक्तियों को ऐसा बल्ब और बॉक्स मुफ्त में दे गए हैं, जिसमें इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लगी हुई है. यही नहीं इस बॉक्स में लगी हुई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में मोबाइल सिमकार्ड भी लगा हुआ है. डिवाइस में मोबाइल की तरह IMEI नम्बर भी है.

डिवाइस में लगा है सिमकार्ड

kaushambi bulb suspect, terror device, UP Police, Kaushambi News,

UP: कौशाम्बी में मुफ्त दिए गए बल्ब और बॉक्स में सिम लगी डिवाइस मिलने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है.

जिस युवक के घर में यह डिवाइस दी गई, उसका बल्ब नहीं जल रहा था तो वह बिजली मिस्त्री की दुकान पर ले गया. यहां पता चला कि इसमें इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लगी हुई है और सिम लगी हुई है, जिसकी सूचना मिलते ही जिले में हड़कंप मच गया. सूचना पर जिले की इंटेलीजेंस टीम उक्त डिवाइस को लेकर जांच के लिए ले गई है. अभी तक की जांच में एक हैदर नाम के युवक की बात सामने आ रही है. कहा गया है कि वही ये बल्ब बांटने आया था.

इधर, बल्ब बनाने वाली कंपनी CESL कंपनी का कहना है कि ग्राम उजाला योजना के तहत यूपी और बिहार में ऐसे लगभग 30 लाख एलईडी बल्ब बांटे गए हैं. इस प्रोजेक्ट के तहत एलईडी बल्बों का कितने लोग इस्तेमाल कर रहे हैं, यह जानने के लिए चयनित परिवारों को दिए गए बल्ब में डेटा मीटर लगाए गए हैं. डेटा मीटर द्वारा कैप्चर बल्ब यूज करने के घंटों की संख्या का उपयोग पुराने बल्बों के स्थान पर एलईडी बल्बों के उपयोग से उत्पन्न कार्बन क्रेडिट की संख्या की गणना के लिए किया जाता है. डेटा मीटर उपभोक्ता की सहमति से 90 दिनों की अवधि के लिए लगाया जाता है और इसके बाद हटा दिया जाता है. इसलिए जिन बल्बों में डेटा मीटर लगाया है, वह एक वैध अभ्यास है, और यह किसी भी प्रकार की अवैध गतिविधि नहीं है.

Tags: Crime in up, Kaushambi news, Terror Incident, UP Police उत्तर प्रदेश

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर