होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

Kushinagar: कप्तानगंज की नगर पंचायत अध्यक्ष आभा गुप्ता पर गिरी गाज, राज्यपाल ने हटाया

Kushinagar: कप्तानगंज की नगर पंचायत अध्यक्ष आभा गुप्ता पर गिरी गाज, राज्यपाल ने हटाया

Kushinagar News: फर्जी प्रमाण के आधार पर चुनाव जीतने के बाद आभा गुप्ता तो चेयरमैन की कुर्सी पर काबिज हो गई.

Kushinagar News: फर्जी प्रमाण के आधार पर चुनाव जीतने के बाद आभा गुप्ता तो चेयरमैन की कुर्सी पर काबिज हो गई.

Kushinagar News: फर्जी प्रमाण के आधार पर चुनाव जीतने के बाद आभा गुप्ता तो चेयरमैन की कुर्सी पर काबिज हो गई. हालांकि उनके प्रतिद्वंद्वी रहे नासिर ने उसी समय तमाम साक्ष्यों के साथ इसकी शिकायत कुशीनगर और गोरखपुर के जिलाधिकारी के साथ-साथ चुनाव आयोग से भी कर दी.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

चुनाव में प्रतिद्वंद्वी रहे नासिर ने खोली पोल
नगर पंचायत अध्यक्ष मामले में कई अधिकारियों पर गिरी गाज
एसडीएम कप्तानगंज को सौंपी गई जिम्मेदारी

कुशीनगर. कुशीनगर (Kushinagar) के कप्तानगंज नगर पंचायत अध्यक्ष आभा गुप्ता को राज्यपाल की संस्तुति पर जिलाधिकारी एस राजलिंगम ने तत्काल प्रभाव से पद से हटा दिया है. बताया जा रहा है कि आभा गुप्ता फर्जी तरीके से पिछड़ी जाति का प्रमाण पत्र बना कर 4 वर्ष तक नगर पंचायत अध्यक्ष पद पर बनी रहीं. मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने कड़ा कदम उठाया है. विकास के नाम पर करोड़ों रुपये के धन का बंदरबांट करने वाली नगर पंचायत अध्यक्ष आभा गुप्ता का जाति प्रमाण पत्र राज्यस्तरीय कमेटी ने गहन जांच के बाद निरस्त कर दिया था.

कमेटी ने कूट रचना कर गलत जाति प्रमाण पत्र जारी कराने वालों में शामिल लेखपाल, कानूनगो और तहसीलदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के भी निर्देश दिया था. जिस पर राज्यपाल ने भी अपनी सहमति जताई है. राज्यपाल के प्रमुख सचिव अमृत अभिज्ञात द्वारा जारी किये गये आदेश संख्या 1201/9-1-22-17च /2018 लखनऊ दिनांक – 4 अगस्त – 2022 मे पैरा एक से सात तक मे कप्तानगंज नगर पंचायत अध्यक्ष आभा गुप्ता के फर्जी जाति प्रमाण पत्र के खिलाफ जिला स्तरीय जांच कमेटी से लगायत मण्डलीय जांच कमेटी व राज्य स्तरीय स्कूटनी कमेटी द्वारा जांच के बाद लिए गये निर्णय व दिये गये निर्देश का उल्लेख किया गया है.

फर्जी प्रमाण के आधार पर चुनाव जीतने के बाद आभा गुप्ता तो चेयरमैन की कुर्सी पर काबिज हो गई. हालांकि उनके प्रतिद्वंद्वी रहे नासिर ने उसी समय तमाम साक्ष्यों के साथ इसकी शिकायत कुशीनगर और गोरखपुर के जिलाधिकारी के साथ-साथ चुनाव आयोग से भी कर दी.

Bareilly: कांवड़ से बाइक टकराने पर दो समुदायों में बवाल, कांवड़ियों ने सड़क किया जाम

बता दें कि कप्तानगंज की नगर पंचायत अध्यक्ष सीट पिछड़ी जाति की महिला के लिए आरक्षित थी. पिछड़ी जाति के फर्जी प्रमाण पत्र पर आभा गुप्ता चुनाव जीतकर अध्यक्ष बनी. चुनाव के दौरान आभा गुप्ता ने खुद को पिछड़ी का जाति बताकर गोरखपुर से जारी जाति प्रमाण पत्र जमा किया था. जबकि आभा गुप्ता स्वर्ण जाति की श्रेणी में आने वाली अग्रहरि बिरादरी से ताल्लुक रखती है. प्रमाण पत्र बनाने वाले तहसीलदार, लेखपाल और कानूनगो के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.एसडीएम कप्तानगंज रत्निका श्रीवास्तव को नगर पंचायत का प्रशासक नियुक्त किया गया है, वह अध्यक्ष के समस्त दायित्वों का निर्वहन करेंगी.

Tags: Anandiben Patel, Kushinagar news, UP news, UP police, Yogi government

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर