लाइव टीवी

कुशीनगर मस्जिद ब्लास्ट केस: हैदराबाद से गिरफ्तार डॉ अशफाक ने सेना से 2 साल पहले ली है रिटायरमेंट

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 15, 2019, 10:57 AM IST
कुशीनगर मस्जिद ब्लास्ट केस: हैदराबाद से गिरफ्तार डॉ अशफाक ने सेना से 2 साल पहले ली है रिटायरमेंट
यूपी एटीएस ने हैदराबाद से डॉ अशफाक को कुशीनगर ब्लास्ट केस में गिरफ्तार किया है.

जानकारी के अनुसार डॉ अशफाक हैदराबाद (Hyderabad) के सेना अस्पताल (Army Hospital) में कैप्टन (Captain) था और दो साल पहले ही उसने समयपूर्व सेवानिवृत्ति ले ली. वहीं उसकी पत्नी इस समय सेना अस्पताल में कार्यरत है.

  • Share this:
लखनऊ. कुशीनगर में मस्जिद ब्लास्ट केस (Kushinagar Mosque Blast Case) में यूपी पुलिस (UP Police) ने अब तक 6 लोगों की गिरफ्तारी की है. इनमें कुतुबुद्दीन (Qutubuddin) शामिल है, जिसे पुलिस मास्टरमाइंड (Mastermind) बता रही है. वहीं मामले में सेना के रिटायर्ड कैप्टन डॉ अशफाक (Retd, Captain Dr Ashfaq) की हैदराबाद से गिरफ्तारी की गई है. मामले में एटीएस अब दोनों का आमना-सामना कराकर पूछताछ करने की तैयारी में है. बता दें यूपी एटीएस ने हैदराबाद के टोली चौकी इलाके से डॉ अशफाक को गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार डॉ अशफाक हैदराबाद के सेना अस्पताल में कैप्टन था और दो साल पहले ही उसने समयपूर्व सेवानिवृत्ति ले ली. वहीं उसकी पत्नी इस समय सेना अस्पताल में कार्यरत है.

एएमयू से किया एमबीबीएस

पता चला है कि अशरफ ने अलीगढ़ यूनवर्सिटी से एमबीबीएस किया इसके बाद वह आर्मी मेडिकल कोर में चयनित हुआ. उसने सेना अस्पताल में कैप्टन के तौर पर सेवाएं दीं. इस दौरान उसका एक महिला डॉक्टर से प्रेम हुआ, जो तेलंगाना के जगतियाल जिले की रहने वाली है. दोनों ने शादी कर ली. उसकी पत्नी भी हैदराबाद के लंगर हौज इलाके में सेना अस्पताल में डॉक्टर है. दो साल पहले अशफाक में समय पूर्व सेवानिवृत्ति ले ली और सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी करने लगा. पिछले साल वह यूपीएससी के इंटरव्यू में शामिल हुआ.

दावा- ब्लास्ट की सूचना अशफाक ने ही दी

पता चला है कि रिटायर होने के बाद अशफाक हैदराबाद में ही रहता है. विस्फोट से पहले 8 नवंबर को वह अपने चचेरे भाई की शादी में शामिल होने के लिए कुशीनगर आया था. बताया जा रहा है कि 11 नवंबर को मस्जिद में धमाके की सूचना अशफाक ने एसपी को फोन पर दी. उधर पुलिस का कहना है कि घटना की रात ही अशफाक फरार हो गया था. वहीं गोरखपुर से गिरफ्तार मास्टर माइंड हाजी कुतुबुद्दीन पीडब्लूडी का रिटायर कर्मचारी है. रिटायर होने के बाद वह मऊ में घर बनाकर रहता है. वह भी अक्सर गांव में आकर कुछ दिनों तक रहता था.

इनपुट: अशोक कुमार शुक्ला

ये भी पढ़ें:
Loading...

कुशीनगर मस्जिद ब्लास्ट: मास्टरमाइंड हाजी कुतुबुद्दीन और अशफाक गिरफ्तार

रामलला के दर्शन कर बोले विनय कटियार- पहले से बने ट्रस्ट में होगा थोड़ा बदलाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कुशीनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 10:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...